-->

मेरी ब्लॉग सूची

रूपेश सिंह हत्याकांड में आज सीएम नीतीश से मिलेंगे परिजन, सीबीआई जांच की कर सकते हैं मांग

रूपेश सिंह हत्याकांड में आज सीएम नीतीश से मिलेंगे परिजन, सीबीआई जांच की कर सकते हैं मांग

बिहार के हाईप्रोफाइल इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड के मामले में आज यानी रविवार को पीड़ित परिजन दोपहर में सीएम से मिलेंगे। इस दौरान परिजन उनसे हत्याकांड के बारे में बात करेंगे। साथ ही सीबीआई जांच की मांग भी कर सकते हैं। यह जानकारी रूपेश के परिजनों ने दी है। इससे एक दिन पहले पटना एसएसपी ने रूपेश की पत्नी से मिलकर उन्हें हत्याकांड से संबंधित तमाम जानकारियां दी थी। इसके साथ ही उन्होंने रूपेश की पत्नी को पुलिस सुरक्षा उपलब्ध करवाई थी।

रितुराज के मोबाइल में हत्याकांड का अहम राज 
इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह हत्याकांड के मुख्य आरोपित रितुराज के मोबाइल में हत्याकांड का अहम राज छिपा है। हालांकि, पुलिस अबतक उसका मोबाइल या तो बरामद नहीं कर सकी है या फिर उसमें छिपे राज को छिपाने की कोशिश की जा रही है। पकड़े गये आरोपित का मोबाइल कहां है, पुलिस अबतक स्पष्ट नहीं कर सकी है, जबकि गिरफ्तारी के बाद पुलिस हत्या के दौरान पहने गए रितुराज के कपड़े, जूता, पिस्टल, हेलमेट, बाइक और बाइक का फर्जी नंबर प्लेट बरामद होने की बात बतायी थी। पुलिस का कहना था कि पूछताछ में आरोपित ने मोबाइल फेंकने की बात बतायी है। माना जा रहा है कि मोबाइल बरामद होने पर जहां हत्या के पीछे राज उजागर होंगे। वहीं कई चेहरे बेनकाब हो सकते हैं। 

सूत्रों की मानें तो आरोपित को रिमांड पर लेने के लिए पुलिस प्रक्रिया पूरी करने में जुटी है। रिमांड पर लेने के बाद उसके फरार तीन साथियों पवन, मो. बउवा व पीयूष के बारे में जानकारी हासिल करेगी। पुलिस फरार आरोपितों के करीब पहुंच चुकी है। इसकी भी चर्चा तेज है। 

फरार आरोपितों की तलाश तेज

फरार आरोपितों की तलाश में एसआईटी झारखंड, सीतामढ़ी और मोतिहारी में दबिश दे रही है। बताया जा रहा है कि रितुराज की गिरफ्तारी के बाद उसके तीनों साथी पटना से फरार हो गये। उनकी लोकेशन संबंधित जिलों में मिलने के बाद पुलिस ने दबिश बढ़ा दी है। पुलिस फरार आरोपितों के परिजनों और रिश्तेदारों के ठिकानों पर भी छापेमारी कर रही है।

0 Response to "रूपेश सिंह हत्याकांड में आज सीएम नीतीश से मिलेंगे परिजन, सीबीआई जांच की कर सकते हैं मांग"

एक टिप्पणी भेजें