भोरे में बोले सीएम नीतीश जंगल राज हटाकर कानून राज किए कायम, देश में अपराध के मामले में 23 वां स्थान पर बिहार


GOPALGANJ: बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने आज मंगलवार को गोपालगंज के भोरे से अपनी चुनावी सभा का शुभारम्भ किया. उन्होंने दूसरे चरण के चुनाव के प्रचार की शुरुवात गोपालगंज से की. यहाँ भोरे सुरक्षित विधानसभा सीट से एनडीए के जदयू प्रत्याशी व पूर्व डीजी सुनील कुमार के लिए चुनावी सभा की.

सीएम ने चुनावी सभा के दौरान जनता को संबोधित करते हुए कहा की बिहार की जनता ने उन्हें 15 साल तक उनकी सेवा करने का मौका दिया. उन्होंने बिहार में विकास के कई कार्य किए. उन्होंने कहा कि बिहार में कोरोना के सर्वाधिक मामले सामने आये. लेकिन केंद्र सरकार की मदद से कोरोना से लड़ने में वे बेहतर प्रयास कर रहे है. इस बार विधानसभा चुनाव में प्रचार करने के लिए वक़्त कम मिला है. इसलिए सभी क्षेत्रो में जाकर प्रचार करने का समय नहीं मिल पायेगा. लेकिन इस बार उनके काम के आधार पर वोट दे.उन्होंने 15 वर्षो तक न्याय के साथ विकास के तहत काम किया. हर किसी को मुख्य धारा में लाने की कोशिश कर रहे है.

वहीं नीतीश कुमार राजद शासनकाल पर हमला बोलते हुए कहा कि पहले क्या होता था किसी से छुपा नहीं है. पति पत्नी के राज में अपहरण होता था. दिनदहाड़े लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी जाती थी. लेकिन आज कानून का राज कायम है. बिहार से जंगलराज का खात्मा हो गया है.

उन्होंने दावा किया की बिहार में कानून का ग्राफ घट गया है. अब बिहार देश में अपराध के मामले में 23 वां स्थान पर है. औऱ विकास दर 12.8 फीसदी सालाना है. मौका मिला तो वे बिहार के विकास के लिए और काम करेंगे. उन्होंने महिलाओं को आरक्षण दिया. बिहार में तीन बार पंचायती राज का चुनाव हुआ. महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिया. पिछड़े तबके को आरक्षण दिया. पिछली सरकार में गरीबों के कंधे पर बन्दुक रखकर लोग चलवाते थे. उन्होंने तेजस्वी यादव पर भी जमकर हमला बोला. सीएम ने तेजस्वी का नाम लिए बिना बोले की वह बोलता है 10 लाख लोगों को नौकरी देंगे. लेकिन इतनी नौकरी के लिए पैसे कहा से लाओगे. उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए भ्रमित नहीं होने की अपील की.

Post a Comment

0 Comments