उत्तराखंड के हरिद्वार में आयोजित ओपन नेशनल चैंपियनशिप में गया के बच्चों ने किया कमाल, जीते गोल्ड मेडल

 
गया से (आशीष कुमार)
गया. उत्तराखंड के हरिद्वार के कंसलटेंसी हरिद्वार में सातवीं ओपन नेशनल चैंपियनशिप में कबड्डी और जैवलिन थ्रो क्रिकेट प्रतियोगिता में बिहार की ओर से खेलते हुए गया के नक्सल प्रभावित इमामगंज के बच्चों ने कबड्डी और जैवलिन थ्रो क्रिकेट में गोल्ड मेडल हासिल किया. कबड्डी मैच में जबरदस्त वापसी करते हुए बच्चों ने अपनी कड़ी मेहनत से असम को 6 पॉइंट्स से मात दी और गोल्ड मेडल हासिल कर लिया. वही, जैवलिन थ्रो क्रिकेट में भी गोल्ड हासिल कर लिया. गया के इमामगंज के रहे बच्चों की टीम कोच शुभम पहलवान और धनंजय मिश्रा के नेतृत्व में  उत्तराखंड हरिद्वार को गई थी. लगातार बेहतर प्रदर्शन करने के बाद इमामगंज के बच्चों का सिलेक्शन राज्य स्तर पर उक्त प्रतियोगिता के लिए हुआ था. नेशनल ओपन ओपन नेशनल चैंपियनशिप में बिहार के लिए बेहतर खेलते हुए इन बच्चों में गोल्ड मेडल जीते. इस प्रतियोगिता में दर्जन भर राज्यों के खिलाड़ी शामिल हुए थे. यह ओपन नेशनल चैंपियनशिप अंदर 14 के लिए थी. वहीं, शुक्रवार को हरिद्वार से गोल्ड मेडल जीतकर टीम लौटी तो उसका गया में स्वागत किया गया. अंडर 14 की थी प्रतियोगिता, हरिद्वार के विधायक ने किया सम्मानित  वहीं, गया के बच्चों के द्वारा कबड्डी और जैवलिन थ्रो क्रिकेट में गोल्ड मेडल हासिल करने के बाद वहां हरिद्वार के विधायक संजय गुप्ता ने बच्चों को ट्रॉफी और मेडल प्रदान किया. सफल प्रतिभागी बच्चों में कबड्डी में सत्यम कुमार, ऋषभ राज, अभिषेक रंजन, सोनू कुमार, अर्जुन कुमार शामिल थे, जबकि जैवलिन थ्रो क्रिकेट में जयप्रकाश कुमार, आयुष रंजन, पीयूष कुमार, सत्यम कुमार शामिल थे. सफल प्रतिभागी बच्चे गया के इमामगंज के दिल्ली पब्लिक स्कूल के बताए जाते हैं,जो कि शुभम पहलवान और धनंजय मिश्रा की देखरेख में इस ओपन नेशनल चैंपियनशिप के लिए कड़ी मेहनत के साथ तैयारी कर रहे थे. गया लौटने पर विजेता बच्चों का स्वागत किया गया. सुविधा कम रहते हुए भी हमने मेहनत किया  वही सफल बच्चों ने बताया कि हम लोगों को सुविधा की कमी थी. सरकारी सहयोग नहीं के बराबर था, लेकिन फिर भी हमने अपने मेहनत बल पर इस प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन किया और गोल्ड मेडल जीता है. बच्चों ने अपने कोच को इसका श्रेय दिया और कहा कि आने वाले दिनों में और भी बेहतर प्रदर्शन करेंगे और देश का नाम रोशन करेंगे. इमामगंज के बच्चों का नेशनल ओपन नेशनल. चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतना गौरव की बात  वहीं, इस संबंध में कोच शुभम पहलवान ने बताया कि गया के इमामगंज के बच्चों का ओपन नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड जीतना गौरव की बात है. इमामगंज का इलाका पिछड़ा हुआ है, लेकिन अब इस इलाके के बच्चे हर क्षेत्र में बेहतर कर रहे हैं. कबड्डी और जैवलिन थ्रो क्रिकेट में गोल्ड मेडल हासिल करना एक बड़ी उपलब्धि है. इससे इस इलाके के बच्चों में विभिन्न खेलों के प्रति रूझान बढ़ेगा और अपना कैरियर अलग-अलग क्षेत्र में बना सकेंगे.

Post a Comment

और नया पुराने

BIHAR

LATEST