-->

मेरी ब्लॉग सूची

बिहार में फरवरी माह में ही सताने लगी अप्रैल जैसी गर्मी, जानें क्यों टूटा 3 साल का रिकॉर्ड

बिहार में फरवरी माह में ही सताने लगी अप्रैल जैसी गर्मी, जानें क्यों टूटा 3 साल का रिकॉर्ड

BIHAR:
बिहार में ठंड के बाद अब गर्मी ने भी आंखमिचौली खेलनी शुरू कर दी है. प्रदेश का तापमान बेमौसम अपना रंग बदल रहा है. कुछ दिनों पहले जब ठंड के मौसम में अचानक गर्मी ने दस्तक दी और फिर वापस ठंड से लोगों का सामना हुआ वहीं अब फरवरी के माह में ही अप्रैल जैसी गर्मी का सामना करना पड़ रहा है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, राजधानी पटना सहित पूरे सूबे में अगले दो दिनों तक मौसम का मिजाज बेहद अलग रहने वाला है. प्रदेश के कई इलाकों में धूल भरी आंधी भी चल सकती है. साथ ही तापमान में दो डिग्री तक बढोतरी के भी आसार हैं. गुरुवार को राजधानी पटना में फरवरी माह के तापमान ने पिछले तीन साल की गर्मी का रिकार्ड तोड़ दिया है. गुरुवार को राजधानी का तापमान 32.6 डिग्री रहा

राजधानी पटना में सामान्य से चार डिग्री अधिक तापमान दर्ज किया गया. राज्य में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान 33.5 डिग्री दर्ज किया गया जबकि यहां न्यूनतम तापमान भी सामान्य से चार डिग्री रिकॉर्ड दर्ज किया गया.

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, पटना सहित सूबे में पारा चढ़ने की दो वजहें हैं. अभी राज्य में कोई मौसमी सिस्टम नहीं है और आसमान साफ रहने की वजह से अधिक से अधिक सौर विकिरण सीधे धरती की सतह पहुंच रहा है. शुष्क पश्चिमी और उत्तरी पश्चिमी दिशा से पटना सहित राज्य में शुष्क हवाओं का प्रवाह जारी है.

0 Response to "बिहार में फरवरी माह में ही सताने लगी अप्रैल जैसी गर्मी, जानें क्यों टूटा 3 साल का रिकॉर्ड"

एक टिप्पणी भेजें