चिराग बोले- मैं अपने लक्ष्य में रहा सफल, अब नई सरकार भ्रष्टाचार की कराए जांच

पटना। लोजपा बिहार विधानसभा चुनाव में करारी हार को स्वीकार करने को तैयार नहीं है. चुनाव परिणाम आने के बाद बुधवार को पत्रकारों से बात करते हुए लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने कहा कि चुनाव में हार -जीत तो लगा रहता है  लेकिन, आप यह देखें कि मेरा जनाधार कितना बढ़ा है. कई जगहों पर तो लोजपा जीत के करीब रही है। 2025 में अपनी कमी को पूरी करेंगे। मुख्यमंत्री कौन बनेगा इसपर उन्होंने कहा कि यह एनडीए तय करेगा।

नीतीश कुमार के मामले में उन्होंने कहा कि नई सरकार भ्रष्टाचार की जांच कराए। मैं उस पोजीशन में होता तो जांच कराकर नीतीश को जेल भेजता। व्यक्तिगत सम्बंध बना रहेगा, लेकिन राजनीतिक विरोध भी बना रहेगा। उन्होंने धांधली या ईवीएम से छेड़छाड़ की बात को गलत बताया। उन्होंने कहा कि अगर परिणाम उनके पक्ष में आता तो ऐसा नहीं कहते। एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने एनडीए की बड़ी जीत पर कहा है कि बधाई के हकदार सिर्फ और सिर्फ प्रधानमंत्री हैं। उनकी वजह से ही भाजपा का प्रदर्शन अच्छा रहा। नहीं तो सीएम के खिलाफ कितना गुस्सा था, ये सब जानते हैं।



चिराग पासवान ने कहा कि जनता के आक्रोश का ही यह फलाफल है कि विपक्ष ने बड़ी टक्कर दी। इसके लिए जनता बधाई के पात्र है। उन्होंने कहा कि हमने संघर्ष का रास्ता चुना है। सिर्फ बिहार पर राज करने की लड़ाई नहीं है। नीति और संघर्ष का रास्ता हमने चुना है।

चिराग ने तेजस्वी के साथ चुनाव लड़ने की संभावना से इनकार किया। उन्होंने कहा बिहार फर्स्ट और बिहारी फर्स्ट आगे भी जारी रहेगा। महागठबंधन और राजद के साथ राजनीतिक मतभेद हैं। हमने बेहतर प्रदर्शन किया। 25 लाख वोट लोजपा को मिला है 



Post a Comment

0 Comments