JDU विधायक के न ठुमके काम आए, न तंत्र विद्या, चुनाव में मिली करारी हार


डेस्क:
बिहार के सीवान जिले की बड़हरिया विधानसभा से जेडीयू विधायक श्याम बहादुर सिंह को आरजेडी प्रत्याशी ने हरा दिया. अपने ठुमकों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले श्याम बहादुर सिंह की तंत्र विद्या भी काम नहीं आई. दरअसल चुनाव से पहले जेडीयू विधायक ने तांत्रिक के कहने पर चप्पल और जूते त्याग दिये थे. उनका मानना था कि ऐसा करने से वे चुनाव जीत जायेंगे, लेकिन जनता के जनादेश के आगे सबकुछ धरा रह गया.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी कहे जाने वाले जेडीयू विधायक श्याम बहादुर सिंह को इस बार आरजेडी प्रत्याशी बच्चा पांडेय ने हरा दिया. श्याम बहादुर सिंह वैसे खूब चर्चा में रहते हैं. कई बार उनके डांस के वीडियो वायरल हुए हैं, जिसमें अपने ठुमकों को लेकर वे जमकर सुर्खियों में रहे. वहीं बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में उन्होंने चुनाव जीतने के लिए एक नया हथकंडा अपनाया. एक तांत्रिक के कहने पर श्याम बहादुर सिंह ने जूते और चप्पलों का त्याग कर दिया. उन्होंने बताया कि तांत्रिक ने सलाह दी है, कि चुनाव होने तक वे यदि नंगे पैर रहेंगे, तो कोई उन्हें चुनाव में हरा नहीं सकता है.

तांत्रिक की बातों में आकर श्याम बहादुर पूरे चुनाव नंगे पैर नजर आए, लेकिन चुनाव परिणाम फिर भी उनके पक्ष में नहीं आया. बड़हरिया विधानसभा पर जब वोटों की गिनती पूरी हो गई, तो परिणाम देख श्याम बहादुर सिंह के पसीने छूट गए. आरजेडी नेता बच्चा पांडेय ने उन्हें 3 हजार 559 वोटों से हरा दिया. श्याम बहादुर सिंह को 68 हजार 6 वोट मिले, जबकि आरजेडी प्रत्याशी ने 71 हजार 226 वोट प्राप्त कर जीत हासिल की. 

बता दें कि जेडीयू नेता श्याम बहादुर सिंह ने 2010 में आरजेडी के मोहम्मद मोबिन को 25 हजार से ज्यादा वोटों के अंतर से चारों खाने चित कर दिया था. इसके बाद 2015 में हुए बिहार विधनासभा चुनावों में विधायक श्याम बाहदुर सिंह ने एलजेपी के उम्मीदवार बच्चा पांडेय को 14 हजार 583 वोट से हराकर लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की थी.

Post a Comment

0 Comments