पप्पू यादव का बड़ा ऐलान, चुनाव रुकवाने HC जाएंगे पप्पू यादव, JAP भेजेगी 10 लाख पोस्टकार्ड

पटना.
बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को रोकने के लिए पप्पू यादव अब हाईकोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं. जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक (JAP) चुनाव आयोग को विधानसभा चुनाव रोकने के लिए 10 लाख पोस्टकार्ड भी भेजेगी. पप्पू यादव (Pappu Yadav) विधानसभा चुनाव रोकने के लिए राम विलास पासवान के समर्थन में उतर आए हैं. जाप प्रमुख पप्पू यादव बिहार में चुनाव कराने के मामले पर नीतीश सरकार पर निशाना साध रहे है. जाप पार्टी चुनाव को रुकवाने के लिए सभी संवैधानिक उपाय करेगी. बुधवार को पार्टी कार्यालय में हुए प्रेसवार्ता में पप्पू यादव ने एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार पर निशाना साधा. पूर्व सांसद पप्पू यादब ने कहा कि नीतीश कुमार चुनाव को लेकर बहुत ही जल्दबाजी में हैं. वो दवाब डाल कर लोकतंत्र को समाप्त करने की कोशिश कर रहे हैं. जिला परिषद  की 12 खाली सीटों और मुखिया का चुनाव अगस्त में करवाने का फैसला एक आत्मघाती निर्णय है. निर्वाचन आयोग जिला परिषद चुनाव को तत्काल स्थगित करना चाहिए.

पूर्व सांसद पप्पू यादव ने राष्ट्रीय चुनाव आयोग से मांग करते हुए कहा कि आयोग बिहार विधानसभा चुनाव के विषय में हस्तक्षेप करें अन्यथा मैं इस मामलों को लेकर हाईकोर्ट जाऊंगा. जिला परिषद और मुखिया का चुनाव सिर्फ बहाना है. आगामी बिहार विधानसभा के चुनाव को जबरदस्ती करवाने के लिए यह सरकार तानाशाही की सारी सीमाएं तोड़ चुकी है.

पप्पू यादव ने कहा कि जब मात्र 30-40 प्रतिशत लोग वोट करेंगे और 60 फीसदी लोग वोट से वंचित रह जाएंगे. इससे लोकतंत्र खतरे में पड़ जाएगा. जाप प्रमुख यादव ने कहा कि एनडीए के सहयोगी राम विलास पासवान और चिराग पासवान ने भी कोरोना के कारण आगामी विधानसभा चुनाव स्थगित कर बिहार में  राष्ट्रपति शासन की वकालत की हैं. उन्होंने कहा कि मैं राम विलास पासवान के निर्णय से सहमत हूं. जन अधिकार पार्टी,  हर परिस्थिति में कोरोना और बाढ़ के इस दौर में चुनाव करवाने के खिलाफ है. जन अधिकार पार्टी इस सन्दर्भ में इसी महीने 10 लाख पोस्टकार्ड निर्वाचन आयोग को भेजेंगी ताकि चुनाव अभी नहीं करवाएं जाएं

Post a Comment

0 Comments