पीएचसी में गर्भवती महिलाओं के द्वारा लॉकडाउन की धज्जियां उड़ाई गई

सिसवनियां पोखरा में 137 जांच में मिला चार कोरोना पॉजिटिव मरीज


 रामगढ़वा (एम० कुमार)

रामगढ़वा । कोरोना को लेकर चार दिन पहले स्वास्थ्य विभाग का फैसला आया था कि गर्भवती महिलाओं की जाँच घरों पर की जाएगी ।लेकिन स्वास्थ्य विभाग रामगढ़वा के द्वारा गर्भवती महिलाओं की जांच घरों पर नहीं करके सोमवार को रामगढ़वा पीएचसी में मातृत्व दिवस के अवसर पर जांच के लिए गर्भवती महिलाओं को बुलवा कर पीएचसी पर मेला लगवा दिया गया ।पीएचसी में मेला की तरह गर्भवती महिलाओं की भीड़ को देखकर लोगों में चर्चा होने लगी की अब रामगढ़वा में कोरोना संक्रमण को बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता।
मालुम हो की कोरोना वायरस से बचने के लिए मास्क लगाना और सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करना अनिवार्य है। लेकिन गर्भवती महिलाओं के द्वारा इसका पालन नहीं किया जा रहा था और न पालन कराने के लिए अस्पताल प्रबंधक के द्वारा कोई प्रबंध किया गया था ।जिसका दुरुपयोग पीएचसी में हीं देखने को मिला है।
वही गर्भवती महिलाओं ने पीएचसी में रजिष्ट्रेशन के समय एक दुसरे के साथ धक्का मुक्की करते हुए रजिष्ट्रेशन खिड़की पर खड़ी थी ।इस संबंध में पीएचसी प्रभारी डॉक्टरों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के आदेश आया कि कोरोना के बचाव के नियम का पालन करते हुए गर्भवती महिलाओं की जाँच की जाए।तत्पश्चात नियमानुसार जॉच की गई ।
वही सोमवार को प्रखंड क्षेत्र के मुरला पंचायत के सिसवनियां पोखरा में डॉ० द्बारा शिविर लगाकर 137 लोगों को कोरोना जांच किया गया हैं।जिसमें रैपिड टेस्टिंग के बाद चार लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया हैं।इसकी जानकारी कोरोना के नोडल पदाधिकारी डॉ० प्रहस्त कुमार ने दी।

Post a Comment

0 Comments