शाह की वर्चुअल रैली के खिलाफ आंदोलन का शंखनाद, बोले तेजस्वी- नौ को गरीब अधिकार दिवस मनाएगा आरजेडी, नेता और कार्यकर्ता बजाएंगे थाली

PATNA : बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने नौ जून को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की बिहार में वर्चुअल रैली की घोषणा क्या की, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आंदोलन का शंखनाद कर दिया। तेजस्वी ने कहा कि 9 जून को आरजेडी गरीब अधिकार दिवस मनाएगी। उस दिन राजद के सभी नेता और कार्यकर्ता अपने-अपने घर थाली-कटोरी बजाएंगे।

तेजस्वी ने बिहार आए प्रवासी मजदूरों से भी थाली बजाने की अपील की है। तेजस्वी यादव ने घोषणा की कि आरजेडी के सभी नेता और कार्यकर्ता नौ जून को सुबह 10 बजे गरीब अधिकार दिवस मनाएंगे। गरीब अधिकार दिवस के दिन सभी नेता और कार्यकर्ता थाली- कटोरी बजाएंगे। जिनके पास थाली-कटोरी नहीं है, वे केला पत्ता लेकर आएंगे। उन्होंने कहा कि लालूजी कहते थे कि हमें डाटा नहीं आटा चाहिए। बीजेपी सत्ता की भूख मिटाना चाहती है। इसलिए वर्चुअल रैली कर रही है। बीजेपी को किसी भी शर्त पर सत्ता चाहिए।
 
तेजस्वी ने नसीहत दी कि अच्छा होता कि डिजिटल रैली ना कर बीजेपी नेता पक्ष और विपक्ष के लोगों की सेवा करते। तेजस्वी ने सवाल उठाया कि जो मज़दूर आए हैं उनके रोज़गार की उन्होंने क्या व्यवस्था की है? अर्थव्यवस्था को कैसे संभालेंगे, इसकी जानकारी देते। शासन प्रशासन के लिए डिजिटल का इस्तेमाल करना चाहिए तो इन्हें रैली की पड़ी है। जनसरोकार से इनका कोई मतलब ही नहीं रह गया है। येन-केन-प्रकारेण ये सत्ता हासिल करना चाहते हैं। ये राशन की जगह लोगों को भाषण सुनाने के लिए रैली कर रहे हैं। तेजस्वी ने कहा कि बिहार की जनता कभी इसका समर्थन नहीं करेगी और नौ जून को थाली-कटोरी लेकर बीजेपी को भगाने का शंखनाद करेंगे।

Post a Comment

0 Comments