पटना के क्वारेंटीन सेंटर में तोड़फोड़, मिनरल वाटर के लिए पटक-पटक कर तोड़ डाली कुर्सियां और फर्नीचर

पटना. बिहार के क्वारंटाइन सेंटर्स (Quarantine Center) में अप्रवासी मज़दूरों के हंगामे की घटना लगातार हो रही हैं. ताजा मामला पटना (Patna) का है जहां के पण्डारख प्रखंड के राजकीय मध्य विद्यालय में बने केंद्र में जम कर हंगामा और तोड़फोड़ किया गया. इस दौरान सेंटर की दर्जनों कुर्सियां पटक कर और दीवार में मारकर तोड़ दी गई. हंगामा देख सभी मौजूद लोग मौके से फरार हो गए. हंगामा का कारण सेंटर की कुव्यवस्था बताई जा रही है.


एनएच पर भी किया प्रदर्शन

तोड़फोड़ करने के बाद सभी ने एनएच 31 मुख्य मार्ग पर आकर कुछ देर के लिए जाम लगाया और इंतज़ाम में गड़बड़ी का आरोप लगाया. मौके पर पहुंची पुलिस ने क्वारंटाइन किए गए लोगों को समझाया. जानकारी के मुताबिक इस पूरे प्रकरण में एक स्थानीय नेता का नाम सामने आ रहा है जिसने कोरेटाइन किए लोगों को उकसाया और तोड़फोड़ करने को कहा. पुलिस प्रशासन ने उसकी पहचान कर ली है.

खाना-पानी की कर रहे थे मांग

एनएच 31 पर जाम के दौरान कोरेन्टीन किए गए लोगों ने बताया कि केंद्र पर कोई इंतजाम नही है. शौचालय गंदा है साथ ही समय पर खाना नही मिलता. पानी का भी इंतज़ाम नहीं है. कोरेंटाइन किए गए सभी लोग मिनरल वाटर की पानी मांग रहे थे.

वीडियो फुटेज देखकर होगी कार्रवाई

घटना की जानकारी मिलते ही एसडीएम सुमित कुमार ने बताया कि वायरल वीडियो देख कर दोषियों को पहचाना जा रहा है और सेंटर पर किया गया ये कार्य कतई बर्दाश्त नहीं होगा. एसडीएम ने कहा कि जिसने भी ऐसी हरकत की है उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी.जाम के दौरान अधिकारी ने बताया कि इस सेंटर से दो लोग कोरोना पॉजिटिव निकले हैं जिस कारण रसोइया ,स्वीपर सब फरार हो गए हैं.

Input- news18

Post a Comment

0 Comments