वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में गैंडा की मौत, अधिकारियों को गन्ने के खेत से मिली लाश

बगहा. बिहार के पश्चिमी चंपारण स्थित इकलौते वाल्मीकि टाइगर रिजर्व में एक गैंडा की मौत हो गई है. गैंडा की मौत के बाद वन विभाग में हड़कंप मच गया है. घटना वाल्मीकि नगर रेंज के भेड़ियारी जंगल की है. बताया जाता है कि चमैनिया पुल के समीप एक गैंडा की मौत की खबर मिली जिसके बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और पड़ताल कर रही है. गैंडा के मौत के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है. जंगल के समीप गन्ना के खेत से गैंडा के शव को वन विभाग ने बरामद कर लिया है और पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू कर दी है.

वाल्मीकि रिजर्व में मेहमान है गैंडा

विशाल आकार वाला गैंडा मूलत: नेपाल के चितवन निकुंज में पाया जाने वाला जानवर है. हाल के दिनों में वाल्मीकि टाइगर रिजर्व की वादियां गैंडों को खूब पसंद आ रहा है जिसके कारण भारतीय क्षेत्र में विचरण कर रहे हैं. वाल्मीकि रिजर्व में गैंडा नेपाल के चितवन से आए मेहमान जानवर के रूप में जाने जाते हैं. विशेषकर सीधा चलने की आदत के कारण अधिकांश की मौत की घटना सामने आती है.

वाल्मीकि टाइगर रिजर्व प्रमंडल 2 के डीएफओ गौरव झा ने बताया कि वाल्मीकि नगर इलाके में एक गैंडा की मौत की सूचना मिली है जिसके बाद वन कर्मियों की टीम मौके पर पहुंच गई है. गैंडा का पोस्टमार्टम कराया जाएगा साथ ही अन्य पहलुओं पर भी जांच हो रही है. उन्होंने बताया कि हम जल्द ही गैंडा की मौत के कारणों का खुलासा कर लेंगे.

Post a Comment

0 Comments