दो हत्याओं से दहला पटनाः खुसरूपुर में रिटायर्ड दारोगा को गोलियों से भूना, नौबतपुर में गड़ासे से काटा

पटना। राजधानी में मंगलवार की सुबह दो हत्या की खबर से सनसनी फैल गई। खुसरूपुर के नुरूद्दीनपुर में मंगलवार की सुबह रिटायर्ड दारोगा को अपराधियों ने गोलियों से भून दिया। उन्हें घेरकर करीब छह गोलियां मारी गईं। वारदात को अंजाम देकर आरोपित फरार हो गए। मृतक सुनील सिंह उर्फ सिद्धि सिंह (65) झारखंड में दोरोगा के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। जबकि दूसरी हत्या सोमवार की रात पटना के नौबतपुर में हुई। घनश्यामपुर गांव में गड़ासे से वारकर अधेड़ की जान ले ली गई। मृतक की पहचान लालबिहारी राय (45) के रूप में हुई है।

दारोगा को घेरकर गोलियों से भूना

मिली जानकारी के अनुसार रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह की हत्या रंजिश में की गई। बताया जाता है कि क्षेत्र में कुछ समय पहले सेना के रिटायर्ड जवान कपिल सिंह की हत्या हुई थी। इसी को लेकर प्रतिशोध में सुनील सिंह की जान ली गई। मंगलवार की सुबह करीब नौ बजे बाइक से पांच से छह की संख्या में आए अपराधियों ने रिटायर्ड दारोगा सुनील सिंह को घेरकर एक के बाद एक छह गोलियां मारीं। वारदात को अंजाम देकर सभी आरोपित फरार हो गए। छह गोली लगने से सुनील सिंह की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वारदात के बाद इलाके में दहशत का माहौल है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन शुरू कर दी है।

सरिया फैक्ट्री में काम करता था अधेड़

नौबतपुर के घनश्यामपुर गांव में सोमवार की देर रात लालबिहारी राय (45) की हत्या कर दी गई। बताया जाता है कि लालबिहार बिहटा की एक सरिया फैक्ट्री में काम करते थे। रोज की तरह वे फैक्ट्री का काम खत्म कर अपने घर नौबतपुर के घनश्यामपुर जा रहे थे। मृतक की पत्नी चिंता देवी ने बताया कि घर लौटने के दौरान बीच रास्ते में अजीत राय नाम के युवक ने लालबिहारी रोक लिया और गड़ासे से उनके शरीर पर कई जगह वार किया। जिससे घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। मृतक की पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

Post a Comment

0 Comments