-->

मेरी ब्लॉग सूची

हाथी पर सवार होकर जब पीएम मोदी निकले बिहार की सड़कों पर, देखते रह गए लोग

हाथी पर सवार होकर जब पीएम मोदी निकले बिहार की सड़कों पर, देखते रह गए लोग

समस्तीपुर। जब बिहार के समस्तीपुर जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हाथी पर सवार होकर निकले तो देखने वालों को अपनी आंखों  पर विश्वास ही  नहीं हो रहा था। बुलंद इरादे, सोच सकारात्मक और मन में संकल्प कोरोना पर विजय की। लोगोंं को लॉकडाउन और शारीरिक दूरी बनाए रखने का संदेश। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे दिखनेवाले पटोरी निवासी प्रो.भूपेंद्र यादव गुरुवार को कुछ ऐसा ही अंदाज पेश कर रहे थे।

प्रधानमंत्री के हाव-भाव में लोगोंं को घर में ही रहने की सलाह दे रहे थे। हाथी पर सवार होकर शहर भ्रमण और नेपथ्य में ऊर्जान्वित करता उनका भाषण लोगोंं को आकर्षित और प्रेरित कर रहा था। पेशे से शिक्षक प्रो.भूपेंद्र को शहर की सड़कोंं पर उन्हें देख लोग अचंभे में दिखे। अंदाज ऐसा कि आवाज सुनकर घर के झरोखे से ही लोगों ने अभिवादन करना शुरू कर दिया। उनके साथ पशुप्रेमी महेंद्र प्रधान भी रहे। इस अनोखी पहल को समाज के सभी वर्ग के लोगों ने सराहा है। 

सूंड पर तिरंगे के रंग से रंगा देश का नक्शा

मथुरापुर से निकली हथिनी गौरी की सूंड पर बनाया गया देश का नक्शा खूब भा रहा था। तिरंगे के रंग से रंगा नक्शा देशभक्ति और एकता का भाव जगा रहा था। उसपर घर में रहने की बात लिखी गई थी। वहीं, हाथी पर लगाया गया सिंहासन राजदरबार वाली छतरी के साथ हर किसी के लिए आकर्षण का केंद्र बना रहा। फूल माला से सजी हथिनी के आगे-आगे पिकअप पर साउंड बॉक्स रखा गया था। उससे आमलोगों को पीएम का संबोधन सुनाया जा रहा था। पीछे-पीछे जिला पुलिस की टीम भी चल रही थी।

दरअसल, पीएम मोदी की तरह जैसे दिखनेवाले बिहार के समस्तीपुर जिले के प्रोफेसर  भूपेंद्र यादव लोगों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक कर रहे। लॉकडाउन और शारीरिक दूरी बनाए रखने के संदेश दे रहे। गुरुवार को प्रधानमंत्री के अंदाज में हाथी पर सवार होकर शहर भ्रमण और नेपथ्य में ऊर्जान्वित करता उनका भाषण लोगोंं को आकर्षित कर रहा था। पेशे से शिक्षक प्रो. भूपेंद्र हावभाव से प्रधानमंत्री की तरह दिखने का प्रयास करते रहे। जय प्राप्त करने का यह एकमात्र तरीका है.

0 Response to "हाथी पर सवार होकर जब पीएम मोदी निकले बिहार की सड़कों पर, देखते रह गए लोग"

टिप्पणी पोस्ट करें