-->

मेरी ब्लॉग सूची

कुदरत का अजीब करिश्मा, लॉकडाउन के बीच एक माँ ने चार बच्चों को दिया जन्म

कुदरत का अजीब करिश्मा, लॉकडाउन के बीच एक माँ ने चार बच्चों को दिया जन्म

पटना। दुनिया के कई देशों के साथ ही हमारा देश भी कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इसके बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन किया गया है और प्रतिदिन लोगों से अपील की जा रही है कि वो अपने घरों में रहें। एक तरफ कोरोना खौफ तो दूसरी तरफ इस संकट की घड़ी में भी कुदरत अपना करिश्मा दिखा रही है। मृत्यु के खौफ के बीच लोगों के बीच जीवन की सच्चाई कि जिंदगी और मौत तो आनी-जानी है, यह चरितार्थ हो रहा है।
 बिहार में जारी लॉकडाउन के बीच पटना के फुलवारीशारीफ में छपरा की एक महिला ने एक साथ चार बच्चों को जन्म दिया। बच्चों का वजन एक किलो से डेढ़ किलो के बीच है। इनमें दो बेटे और दो बेटियां हैं। कुदरक के इस करिश्मे को जानकर इस मुश्किल घड़ी में लोगों के बीच एक सकारात्मकता का माहौल बनेगा। 
बता दें कि पटना के फुलवारीशारीफ के समनपुरा, शकूर काॅलाेनी  स्थित शफा नर्सिंग हाेम में भर्ती की गई छपरा की एक महिला ने एक साथ चार बच्चाें काे जन्म दिया। नर्सिंग होम की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर नुजहत रहमान और उनकी टीम ने महिला का ऑपरेशन किया और एक-एक कर सभी बच्चों को सकुशल गर्भाशय से निकाला।
डॉक्टर रहमान ने बताया कि दो दिन पहले ही ये महिला मेरे नर्सिंग होम में आई थी। पहले से मुझे इसकी हिस्ट्री नहीं पता थी क्योंकि यह मेरे इलाज में नहीं थी। मैंने इसका पूरा चेकअप किया और फिर इसे भर्ती कराया गया। इसके बाद जब लगा कि इसका अॉपरेशन कर बच्चों को निकालना होगा तो मैंने इन्हें बताया और फिर इस तरह एक साथ चार बच्चों का जन्म हुआ।
छपरा की महिला व उसके चारों बच्चे स्वस्थ्य हैं। महिला ने बताया कि उसे पहले से  दो बेटियां हैं। उसका पति सउदी अरब में रहता है। डॉक्टर ने कहा कि करीब 20 साल की प्रैक्टिस में पहली बार ऐसा मैंने देखा है। इससे पहले एक महिला का ऑपरेशन किया था। उसने तीन बच्चों को जन्म दिया था।

0 Response to "कुदरत का अजीब करिश्मा, लॉकडाउन के बीच एक माँ ने चार बच्चों को दिया जन्म"

एक टिप्पणी भेजें

LATEST