खाद्य पदार्थों की कालाबाजारी, लॉक डाउन के नाम पर लूटा जा रहा ग्राहकों को



अर्जुन कुमार/नरकटियागंज


बेतिया पश्चिम चम्पारण मे खाद्य पदार्थों  की कालाबाजारी सोमवार से शुरू हो गई है. खाद्य पदार्थों  को दो गुने रेट पर बेचा जा रहा है. जिससे लोग परेशान हो गए हैं. मजबूरी में थोड़ा ही सही लेकिन लेना पड़ रहा है,दुकानदार लॉक डाउन का दे रहे हवाला जब सब्जी दुकानदारों और अन्य खाद्य पदार्थ विक्रेता से रेट बढ़ाने की वजह पूछा गया तो विक्रेताओ ने बताया जो थोक विक्रेता ही रेट बढा कर दे रहे है,  जिसके कारण अधिक रेट पर बेचना पड़ रहा है. लेकिन इनके तर्क में कोई दम नहीं है. क्योंकि यह कालाबाजारी अधिक मुनाफा कमाने के लिए किया जा रहा है. जो पहले से ही खाद्य पदार्थों गोदाम में पड़ा है. उसका लॉक डाउन से रेट बढ़ाने को कोई मतलब ही नहीं है. यह भी नहीं कहा जा सकता कि बाहर से सामान आने में दिक्कत हो रही है. क्योंकि सरकार ने लॉक डाउन से इसको बाहर रखा है.
जनता कर्फ्यू के बाद लॉक डाउन के तीसरे दिन  खाद्य पदार्थों की कालाबाजारी की सूचना को जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार द्वारा अत्यंत गंभीरता से लिया गया है। जिलाधिकारी के निदेश के आलोक में आज जिले के विभिन्न बाजारों में थोक एवं खुदरा व्यापारियों के यहाँ पुलिस-प्रशासन की टीम द्वारा जाँच करायी जा रही है।
जिलाधिकारी द्वारा संबंधित अधिकारियों को सख्त हिदायत दी गयी है कि खाद्य पदार्थों एवं अन्य सामानों की कालाबाजारी करने वाले दुकानदारों के विरुद्ध विधिसम्मत कार्रवाई की जाय।

Post a Comment

0 Comments