-->

मेरी ब्लॉग सूची

सीएए/एनपीआर और प्रस्तावित एनआरसी के विरुद्ध ढाका में  संविधान बचाओ संघर्ष मोर्चा के बैनर तले   पांचवे दिन भी प्रदर्शन जारी।

सीएए/एनपीआर और प्रस्तावित एनआरसी के विरुद्ध ढाका में संविधान बचाओ संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पांचवे दिन भी प्रदर्शन जारी।

सिकरहना[अब्दुस्समद]।आजाद बाग ढाका (शक्ति शंकर पेट्रोल पंप ढ़ाका) पर संविधान बचाओ संघर्ष मोर्चा द्वारा नागरिकता संशोधन कानून(CAA), प्रस्तावित राष्ट्रीय नागरिक पणजी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या पणजी (NPR) के विरोध में दलित, ओबीसी और अल्पसंख्यकों द्वारा आयोजित अन्श्चित कालीन धरना जारी है। पांचवें दिन के धरने का आरम्भ भी राष्ट्रगाण से हुआ, सामुहिक रूप से राष्ट्रगाण पढ़ा गया और संविधान की प्रस्तावनी पढ़ी गई। सामुहिक रूप से क्रान्तिकारी नारे लगाए। आज के दिन के धरने की अध्यक्षता सरोज पासवान और संचालन राजेश कुमार राम सहसंयोजक संविधान बचाओ संघर्ष मोर्चा सिकरहना ने किया। धरने को संबोधित करते हुए अर्जक संघ के बिहार प्रदेश अध्यक्ष अरुण गुप्ता ने कहा कि सरकार चुनाव के समय जनता को अपना मालिक बताती है और अफसोस की बात है कि चुनाव के बाद सत्ता में आते है वही सरकार जनता से यानी अपने मालिक से अपनी नागरिकता का प्रमाण मांगने लगती है।
बहुजन क्रान्ति मोर्चा के राष्ट्रीय सह संयोजक उमा शंकर सहनी ने कहा कि हम हर हाल में सरकार को CAA, NRC और NPR जैसे काले कानून को वापस लेने पर मजबूर करेंगे।बहुजन क्रान्ति मोर्चा के जिला संयोजक बबलू यादव ने कहा कि भारत हम सभी का है हम सबों ने इस गुलशन को सिंचने में अपना खून बहाया है और आज इस गुलशन के संविधान पर प्रहार किया जा रहा है, हम आखरी दम तक इस कानून के खिलाफ लड़ेंगे। 
राम पदाराथ यादव ने कहा सरकार देश हित में नहीं बल्कि संघियों के इशारे पर काम कर रही है। 
राज कुमार सिंह चनऊ संघ के बिहार प्रभारी ने कहा कि यह कानून जितना अल्पसंख्यकों के विरूद्ध है उतना ही हिंदू बहुजन समाज के विरुद्ध भी है। 
विजय राम बहादुर सहित कई अन्य वक्ताओं ने भी इस काले कानून के विरूद्ध लोगों  को संबोधित किया।
धरने में भारी संख्या में महिलाएं और पुरुष शामिल हैं।

0 Response to "सीएए/एनपीआर और प्रस्तावित एनआरसी के विरुद्ध ढाका में संविधान बचाओ संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पांचवे दिन भी प्रदर्शन जारी।"

टिप्पणी पोस्ट करें