-->

मेरी ब्लॉग सूची

सारण की धरती पर कन्हैया कुमार ने कहा ना एनआरसी ना एनपीआर देश मांगे शिक्षा और रोजगार।

सारण की धरती पर कन्हैया कुमार ने कहा ना एनआरसी ना एनपीआर देश मांगे शिक्षा और रोजगार।

पन्नलाल कुमार की रिपोर्ट 

SARAN: सारण की धरती पर जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का पहली बार आगमन हुआ। सभा की अध्यक्षता सीपीआई के जिला सचिव रामबाबू सिंह ने किया। वहीं स्वागत एआईएसएफ सारण जिला ईकाई की ओर से राज्य उपाध्यक्ष राहुल कुमार यादव एवं अमित नयन ने भारतीय संविधान की पुस्तक,साॅल एवं बुके देकर स्वागत किया।
सारण जिले के छपरा हवाई अड्डा मैदान में कन्हैया कुमार ने केंद्र सरकार के खिलाफ हुंकार भरते हुए कहा कि देश की जनता को अनावश्यक मुद्दों में उलझाकर देश की जनता को लुटा जा रहा है।सरकारी कम्पनियों को बेचा जा रहा है और नरेन्द्र मोदी अपने मित्र पूंजीपतियों की तिजोरी भर रहे हैं।
(File pic)
सरकार यह झूठ बोल रही है की सीएए नागरिकता देने के लिए है।जबकि एनपीआर और एनआरसी को इससे जोड़ने पर एक तबके की नागरिकता छीनी जा रही है।इस काले कानून के खिलाफ हमारी लडा़ई जारी रहेगी।प्रियांशू आनन्द ने अपने हांथ से बनायी हुई कन्हैया कुमार की तस्वीर की कलाकृति उन्हें भेंट किया।
आज के सभा में मुख्य रूप से चुल्हन प्रसाद सिंह, राजद के जिलाध्यक्ष जिलानी मोबिन,कांग्रेस के जिलाध्यक्ष कामेश्वर सिंह,सीपीएम के जिला सचिव शिवशंकर राय,माले के जिला सचिव सभापति राय, सुरेन्द्रनाथ त्रिपाठी, युवा नेता विकाश तिवारी,
डाॅ. के.एन सिंह, महात्मा प्रसाद गुप्ता, शिवप्रसाद मांझी, अवधेश राय,नागेन्द्र राय, मो. सुल्तान हुसैन इदरीसी,मो. रफी ईकबाल, अरूण सिंह, राज्य अध्यक्ष शैलेन्द्र यादव,मोब्बसीर हुसैन, सैयद अहमद मजहरी,सरवर हुसैन,
गुड्डू यादव,सहित आदि मौजूद थे।

0 Response to "सारण की धरती पर कन्हैया कुमार ने कहा ना एनआरसी ना एनपीआर देश मांगे शिक्षा और रोजगार।"

टिप्पणी पोस्ट करें