गाजियाबाद: आपस मे भिड़े इंस्पेक्टर और सिपाही , जमकर चले लात-घूंसे , जांच में जुटें अधिकारी....

उप्र: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के आबकारी विभाग के इंस्पेक्टर (निरीक्षक) और सिपाही के बीच जमकर मारपीट होने की घटना सामने आई है. दोनों के बीच ऐसी मारपीट हुई की लात-घूंसे भी चल गए. मारपीट की इस घटना में  दोनों को काफी चोट आई. हालांकि, वहां मौजूद लोगों ने बीच-बचाव करने की कोशिश की. कड़ी मशक्कत के बाद दोनों को वहां से हटाया गया.
जिसके बाद दोनों की तरफ से ही एक-दूसरे के खिलाफ थाना कवि नगर में शिकायत की गई और दोनों ही अपने आप को निर्दोष बता रहे हैं. सूत्रों की मानें तो दोनों में रिश्वत के पैसों को लेकर आपस में विवाद हुआ था. जिसके बाद ऐसी स्थिति बनी कि अधिकारी के कमरे में ही दोनों में जमकर झगड़ा हो गया.
मारपीट में दोनों हुए लहूलुहान
जानकारी के अनुसार आबकारी विभाग के निरीक्षक सुरेश चौधरी अपने अधिकारी के पास बैठे हुए थे. इसी दौरान सिपाही संदीप कुमार मौके पर पहुंचे और आपस में किसी बात को लेकर तकरार हो गई. देखते ही देखते दोनों की बात इतनी बढ़ती चली गई और आपस में लात-घूंसे चलने लगे. दोनों ने ही मारपीट कर एक-दूसरे को लहूलुहान कर दिया. जैसे ही कार्यालय में शोरगुल हुआ तो आस-पास के लोग भी मौके पर दौड़े और कड़ी मशक्कत के बाद दोनों को वहां से हटाया गया.
दोनों ने ही थाने में दर्ज कराई शिकायत
दोनों ही एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे थाना कवि नगर में एक दूसरे के खिलाफ तहरीर दी गई. जिसके आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए दोनों का मेडिकल परीक्षण कराए जाने के बाद इस पूरे मामले की जांच शुरू कर दी है. आबकारी निरीक्षक सुरेश का कहना है कि सिपाही ने अधिकारी के कमरे में उनके साथ मारपीट की. तो वहीं सिपाही संदीप का आरोप है कि निरीक्षक ने उसका शोषण किया. आबकारी निरीक्षक उससे ज्यादा काम करवा रहे हैं और विरोध करने पर उससे मारपीट की गई. जिसमें उनके काफी चोट आई है.
मामले की जांच में जुटी पुलिस
बताया जा रहा है कि रिश्वत के पैसे के बंटवारे को लेकर आपस में झगड़ा हुआ था और यह झगड़ा खून खराबे तक भी पहुंच गया. फिलहाल पुलिस के साथ विभाग के आला अधिकारी भी इस पूरे मामले की जांच कर रहे हैं. इस पूरे मामले पर क्षेत्राधिकारी आतिश कुमार ने कहा कि जांच के आधार पर कार्रवाई की जाएगी.
स्रोत: आजतक

Post a Comment

0 Comments