नक्सलियों की टोह में नक्सल प्रभावित इलाके में चला सर्च ऑपरेशन



डेस्क: गया जिले के बाराचट्टी में शनिवार की देर रात कोबरा जवानों के साथ नक्सलियों की भीषण मुठभेड़ के बाद रजौली और सिरदला के नक्सल प्रभावित इलाकों में रविवार की अहले सुबह से ही सर्च ऑपरेशन चलाया गया।

एएसपी अभियान हिमांशु शेखर गौरव के नेतृत्व में एसटीएफ के जवानों ने नक्सल प्रभावित जंगली इलाके के चप्पे-चप्पे को खंगाला। जंगलों की चारों तरफ से घेराबंदी कर जंगल में रहने वाले आदिवासी समुदाय के लोगों व अन्य लोगों से कड़ी पूछताछ की। नक्सलियों के छुपने वाले सभी संभावित जगहों पर सुरक्षाबलों ने पूरी बारीकी से सर्च ऑपरेशन चलाया। यह ऑपरेशन रविवार की अहले सुबह से ही शुरू कर दी गई थी क्योंकि शनिवार की देर रात गया जिले के बाराचट्टी से 2 किलोमीटर अंदर महुआरी गांव में कोबरा जवानों के साथ नक्सलियों की भीषण मुठभेड़ हुई थी, जिसमें नक्सली का एक कमांडर आलोक ढेर हो गया था। कमांडर आलोक के मारे जाने के बाद उसके साथ रहे 30 से 40 की संख्या में रहे नक्सली भागने में सफल रहे। भागे नक्सलियों की खोज में ही गया जिले की सीमाओं से सटे नवादा जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। जंगलों में एएसपी अभियान के नेतृत्व में एसटीएफ के जवान रविवार की सुबह से ही डटे हुए हैं और नक्सलियों की हर एक गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं। 

एएसपी अभियान ने बताया कि  कोबरा जवानों के साथ हुए मुठभेड़ के बाद गया जिले से भागकर नक्सलियों का जत्था नवादा जिले की सीमा में छिप कर पनाह लेने की कोशिश करेंगे। पनाह लेने वाले ऐसे नक्सलियों को नवादा जिले में सुरक्षा बलों द्वारा मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। जानकार सूत्रों का कहना है कि जिस जगह पर मुठभेड़ हुआ है उस जगह से नवादा जिले के जंगली इलाका का सीमा कुछ दूर से शुरू होता है, इसी वजह से संभावना जताया जा रहा है कि नक्सली क्षेत्र में आकर पनाह ले सकते हैं। लेकिन पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। एएसपी अभियान ने बताया कि बाराचट्टी में कोबरा और नक्सली के बीच मुठभेड़ की खबर मिलते ही जिले के सभी नक्सल प्रभावित क्षेत्र में तैनात सुरक्षा बल के जवानों को अलर्ट कर दिया गया है। सिरदला और रजौली के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में ऑपरेशन लॉन्च कर दिया गया गया है और नवादा जिले के सीमा से लगने वाले जंगली इलाके पर पूरी तरह से नजर बनाए हुए हैं किसी भी सूरत में नक्सलियों को सीमा में प्रवेश करने नहीं दिया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments