-->

मेरी ब्लॉग सूची

मारपीट में घायल होम्योपैथिक चिकित्सक की इलाज के दौरान मौत, 2 गिरफ्तार

मारपीट में घायल होम्योपैथिक चिकित्सक की इलाज के दौरान मौत, 2 गिरफ्तार


जगदीशपुर। (भोजपुर)।
नगर पंचायत जगदीशपुर में दो गुटों के बीच मामूली विवाद हिंसक झड़प में लोहे की रॉड से पीटने से गंभीर रूप से घायल पेशे से होम्योपैथिक चिकित्सक की गुरुवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। जबकि, अन्य घायलों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। जानकारी के मुताबिक, बुधवार को रात्रि वार्ड संख्या 12 निवासी मो. रफ़ीक पिता स्व. इबरार मंसूरी एक शादी समारोह में शिरकत कर वापस अपने घर लौट रहे थे। तभी पूर्व से घर के नजदीक खड़े बगलगीर युवकों से किसी बात को लेकर कहासुनी होने लगी। इसी बीच नमाज़ अदा कर घर वापस लौट रहे मो. शफ़ीक़ भी पहुंच गए। मामला तू-तू-मैं-मैं से मारपीट तक पहुंच गई। तभी हो हल्ला सुनकर दोनों पक्षों के दर्जनों लोग जुट गए। जहां, जमकर ईंट पत्थर एवं लाठी डंडों के साथ लोहे की रॉड भी चलने लगे। इसी आपाधापी में पेशे से होमियोपैथ चिकित्सक मो. सफीक को सर में गंभीर चोट लग गई व अन्य कई लोग घायल हो गए। आनन फानन में सभी घायलों को इलाज के लिए स्थानीय रेफरल अस्पताल ले जाया गया। यहां से बेहतर इलाज के लिए डॉक्टर ने आरा, सदर अस्पताल रेफर कर दिया। जहां, इलाज के दौरान 65 वर्षीय मो.शफ़ीक़ की मौत हो गई। इधर, अन्य घायल अभी भी विभिन्न स्थानों पर इलाजरत हैं। 

परिजनों में छाया मातम, रो-रोकर हाल बेहाल
                         
होमियोपैथ चिकित्सक मो. सफीक की मौत के बाद परिजनों में मातम छाया हुआ है और सभी का रो-रोकर हाल बेहाल है। परिजनों ने जगदीशपुर थाने में आवेदन देकर दोषियों पर कठोर कार्रवाई की मांग की है।

पुलिस ने दो आरोपियों को  किया गिरफ्तार

घटना को लेकर जगदीशपुर थाने में मृतक के पुत्र जावेद द्वारा हत्या का केस दर्ज कराया गया। इसमें आठ  नामजद लोगों को आरोपित बनाया गया है। पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपित विशेन टोला निवासी  हसमुद्दीन मंसूरी के पुत्र सद्दाम मंसूरी और डब्लू मंसूरी है।

0 Response to "मारपीट में घायल होम्योपैथिक चिकित्सक की इलाज के दौरान मौत, 2 गिरफ्तार"

टिप्पणी पोस्ट करें