महिला इंस्पेक्टर का आरोप - मेरे साथ दुर्व्यवहार किया, आरोपी बोला- मेरे से 1 लाख रिश्वत ली


मोतिहारी:
जिले के अरेराज अंचल इंस्पेक्टर कल्पना कुमारी ने बीते दिनों एक केस के अनुशंधान में पैरवी नही सुनने के कारण कलीम मियां पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है। अंचल इंस्पेक्टर की माने तो पहाड़पुर थाना में दर्ज  प्राथमिकी संख्या 166/20 के अनुसंधान के क्रम में उन्होंने दफा 307 को हटा दिया । बीते शुक्रवार को अंचल निरीक्षक कल्पना कुमारी पुलिस उपाधीक्षक के चैम्बर से मीटिंग से निकल रही थी तभी उनके साथ कलीम मियां के द्वारा दुर्व्यवहार किया गया।  वही आरोपी कलीम मियां ने बताया कि अंचल इंस्पेक्टर द्वारा केस में 307 को ट्रू करने के लिए रिश्वत माँगी गई थी इंसपेक्टर कल्पना कुमारी को इस केस में रिश्वत के तौर पर 1 लाख रुपया दिया था, पैसा लेने के बाद भी इंस्पेक्टर ने उनका काम नही किया, और बिना इंज्युरी के ही केस से 307 धारा को हटा दिया था तब मैं अपना रुपया वापस मांगने गया था मैंने मैडम को बोला की आपने बिना हमारी इंज्युरी देखे ही 307 धारा कैसे हटा दी अगर आपसे मेरा काम नही हुआ तो आप मेरा पैसा दे दीजिए नही तो मेरी पहचान बहुत  ऊपर तक है मैं आपकी शिकायत करूँगा तभी महिला अधिकारी उनके साथ नोकझोंक करने लगी।
और फिर मैडम भड़क गई और दोनों में ऊँची आवाज में बातचीत होने लगी तभी कार्यालय में मौजूद डीएसपी,थानाध्यक्ष और पुलिसकर्मी आए और डीएसपी ने डाँटकर कलीम मियां को भगाया और बोला की आपको अगर कोई बात करनी है तो हमारे वरीय अधिकारियों के पास जाकर कीजिए ऐसे किसी अधिकारी से बात करना गलत है। 
 
महिला इंस्पेक्टर के साथ गाली गलौज और धक्का मुक्की की बात सही नही है अगर ऐसी घटना किसी अधिकारी के साथ होती है तो कोई भी पुलिसकर्मी ईसे बर्दाश्त नही करता 

क्या कहती है अंचल निरीक्षक कल्पना कुमारी  

मेरे ऊपर लगाए गए आरोप बेबुनियाद है, मैंने किसी से रिश्वत नही ली है। इस केस में गलत अनुसंधान करने के लिए मुझसे कहा जा रहा था। 2 अक्टूबर के डीएसपी साहब के कार्यालय के बाहर मेरे साथ कलीम मियां ने नोकझोंक, धक्का मुक्की किया था। 

क्या बोले मौजूद अधिकारी

मौके पर मौजूद अधिकारियों ने बताया कि मारपीट या धक्का मुक्की की घटना नही हुई है, ऊँची आवाज में अंचल निरीक्षक और कलीम मियां में बात हो रही थी, हमलोगों में समझा बुझा कर मामले को शांत कराया। ये मामला वरीय अधिकारियों के भी संज्ञान में है। 

Post a Comment

0 Comments