6 किलोमीटर का रास्ता, डेढ़ घंटे पैदल चलकर डैम उस पार से वोट देने मतदाता पहुंचे हरदिया


नवादा: (मोनू कुमार मुन्ना)
 कहते हैं कि 'जहां चाह, वहां राह।' इस कहावत को चरितार्थ किया रजौली प्रखंड के डैम उस पार के हरदिया पंचायत के सिंगर गांव के लोगों ने। विधानसभा चुनाव में बुधवार को हुए मतदान में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए दर्जनों लोग जंगली क्षेत्र से 6 किलोमीटर का रास्ता लगभग डेढ़ घंटे में पैदल चलकर हरदिया स्थित मतदान केंद्र पर वोट देने के लिए पहुंचे।

हरदिया डैम पर पहुंचे मतदाताओं से जब मीडिया कर्मियों ने बात की तो मतदान के लिए आए सिंगर गांव के कपिल राजवंशी, सुनैना देवी, सुरेंद्र राजवंशी, सुशीला देवी समेत कई महिला-पुरुषों ने बताया कि वे लोग मतदान के प्रति काफी जागरूक है और प्रशासन द्वारा चलाए गए जागरुकता अभियान के बाद हरदिया स्थित मतदान केंद्र पर अपना बहुमूल्य वोट देकर अपना धर्म निभाने जा रहे हैं। मतदाताओं ने कहा कि डैम उस पार जाने के लिए कच्ची सड़क है जिसका संपर्क बरसात के दिनों में कट जाता है और डैम के उस पार जाने के लिए नाव ही एकमात्र सहारा है।

गांव के लोग बेरोजगार हैं। कोरोना महामारी को लेकर लॉकडाउन के कारण लोग रोजी- रोटी के लिए भी तरस रहे हैं। जंगल से लकड़ी काटकर किसी तरह वे लोग अपना गुजर-बसर करते हैं। बावजूद उन्होंने वोट देने के अपने अधिकार को नहीं छोड़ा और वोट देने के लिए डेढ़ घंटे तक पैदल का रास्ता तय कर हरदिया स्थित मतदान केंद्र पर जा रहे हैं। जब मतदाताओं से यह पूछा गया कि प्रशासन द्वारा कोई सुविधा उन लोगों के लिए दी गई है तो उन्होंने कहा कि पिछले विधानसभा और लोकसभा चुनाव के दौरान स्थानीय प्रशासन द्वारा डैम के उस पार से इस तरफ आने के लिए नावा की व्यवस्था की गई थी। लेकिन इस बार मतदाताओं को मतदान केंद्रों तक पहुंचाने के लिए प्रशासन द्वारा कोई व्यवस्था नहीं की गई। जिसके कारण वे लोग जंगल के रास्ते से पैदल ही चल कर मतदान केंद्र पर जा रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments