बेगूसराय में लंबित आधारभूत मांगों को लेकर तीन दिनों की अवकाश पर रहेंगे सभी कार्यपालक सहायक

संवाद सूत्र: बिहार के बेगूसराय जिले में सामूहिक रूप से 3 दिनों के लिए सभी विभागों के कार्यपालक सहायक ने अवकाश पर रहने का निर्णय लिया है। इसकी जानकारी बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ ज़िला इकाई बेगूसराय के ज़िलाध्यक्ष पप्पू कुमार ने दी है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ बिहार पटना के पत्रांक 61 दिनांक 26 अगस्त 2020 के तहत कार्यपालक सहायक सामूहिक अवकाश पर जाने को विवश है बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसायटी, समान प्रशासन विभाग बिहार पटना के द्वारा विज्ञापित विज्ञापन एवं निर्देशों के आलोक में जिला स्तर पर जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में गठित चयन समिति के द्वारा लिखित परीक्षा एवं कंप्यूटर दक्षता परीक्षा पास अभ्यर्थियों के बनाए गए पैनल से आदर्श आरक्षण रोस्टर का अनुपालन करते हुए स्वीकृत पद के विरुद्ध भवदीय के महत्वकांक्षी योजना लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम 2011 लोक शिकायत निवारण अधिनियम पंचायत सशक्तिकरण योजना के साथ-साथ विभिन्न विभागीय आदेश के आलोक में ग्राम पंचायत प्रखंड स्तरीय कार्यालयों जिला मुख्यालय पर मंडलीय कार्यालय सचिवालय स्तरीय कार्यालय तक विभिन्न विभिन्न विभागों द्वारा चलाए जा रहे।

विभिन्न योजनाओं कार्यक्रमों विभाग संबंधी कार्यों हेतु कार्यपालक सहायकों का नियोजन कंप्यूटर प्रिंटर एवं अन्य संबंधित उपस्कर सहित सरकारी कार्यालयों में नियोजित किया गया है। कार्यपालक सहायकों का स्थापित कंप्यूटर एवं आईटी संबंधी कार्यों से लेकर कार्यालय स्तर तक के सभी कार्यों को वर्ष 2010-11 से ही सफलता पूर्वक निष्पादन किया जाता रहा है तथा सरकारी योजनाओं के सफल एवं पारदर्शी क्रियान्वयन में अपना योगदान देते आ रहे हैं जिसके फलस्वरूप बिहार सरकार को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई बार सम्मानित किया गया है कार्यपालक सहायकों  का कार्य स्थाई प्रवृत्ति का है परंतु आज भी कार्यपालक सहायक को अल्प मानदेय में बिना किसी सामाजिक सुरक्षा के कार्य कर रहे हैं जिससे  कारण कार्यपालक सहायकों को अपने पारिवारिक एवं सामाजिक दायित्व को निर्वहन में काफी कठिनाई होती है। वही उच्च स्तरीय समिति की अनुशंसाओं को लागू करने हेतु समान प्रशासन विभाग बिहार पटना द्वारा जारी संकल्प को भी देय लाभ से कार्यपालक सहायकों को अब तक वंचित रखा गया है जिससे  फलस्वरुप सभी कार्यपालक सहायकों में असंतोष की भावना उत्पन्न हो गई है जो किसी भी समय एक उग्र आंदोलन का रूप ले सकती है उपरोक्त सभी मूलभूत लंबित मांगों की पूर्ति का अनुरोध संघ द्वारा पूर्व से लगातार किया जा रहा है परंतु आज तक इन मांगों की पूर्ति नहीं हुई है बिहार राज कार्यपालक सहायक सेवा संघ बिहार पटना के तत्वधान में बिहार राज्य संविदा कर्मी महासंघ बिहार पटना द्वारा आहूत तीन दिवसीय सामूहिक अवकाश  दिनांक 1 सितंबर 2020 से दिनांक 3 सितंबर 2020 तक सम्मिलित रहेंगे उक्त आंदोलन के क्रम में यदि जन उपयोगी कार्य बाधित होता है तो इसकी सारी जवाबदेही सामान्य प्रशासन विभाग बिहार पटना एवं बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाइटी बिहार पटना की होगी। हलाकि बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ ज़िला इकाई बेगूसराय  के तुषार  रंजन(मीडिया  प्रभारी) भी मौजूद थे

Post a Comment

0 Comments