कोरोना फैलाने के लिए चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग पर बिहार में चलेगा मुकदमा, पीएम मोदी को गवाह बनाने की अर्जी

DESK : बिहार के बेतिया में स्थानीय सिविल कोर्ट में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग व विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के डायरेक्टर जनरल डॉ टेडरॉस एथानम गैब्रेसस के खिलाफ मुकदमा दायर किया गया है. यह परिवाद अधिवक्ता मुराद अली ने दायर की है. परिवाद में अधिवक्ता ने राष्ट्रपति शी जिनपिंग व डब्ल्यूएचओ के डीजी पर चीन के वुहान शहर से पूरे विश्व से लेकर बेतिया जिले में कोरोना फैलाने के आपराधिक कृत्य का आरोप लगाया है. मामले में सीजेएम की अदालत ने सुनवाई में लिए 16 जून की तारीख मुकर्रर की है.


दायर परिवाद में अधिवक्ता ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप व भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गवाह बनाया है. वादी अधिवक्ता ने चीन के राष्ट्रपति पर दिसंबर 2019 में चीन के वुहान शहर से वादी के स्थान तक कोरोना फैलान व डब्ल्यूएचओ के डीजी पर कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव की बात छिपाने का आरोप लगाया है.

गौर हो कि रविवार तक चीन में 83,040 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी थी. जिनमें से 65 मरीज ऐसे हैं जिनका अब भी इलाज चल रहा है. हालांकि, किसी की भी हालत गंभीर नहीं है. वहीं, भारत ने अब तक संक्रमण के मामलों की संख्या 2,66,598 बतायी जा रही है. इसके 7,466 लोग की मौत हुई है और उपचार के बाद 1,29,215 लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हुए हैं.

Post a Comment

0 Comments