अपहरण-हत्या के फरार तीन अभियुक्त को हथियार के साथ पुलिस ने किया गिरफ्तार


बेगूसराय: हरेराम दास-  बिहार के बेगूसराय में कोरोना बंदी लॉक डाउन के दौरान भी अपराधियों का तांडव लगातार जारी है। ताजा मामला बिहार बेगूसराय नावकोठी थाना क्षेत्र में दहशत फैलाने वाले तीन बदमाशों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।



















मौका ए वारदात से एक लोडेड देसी कट्टा,चार जिंदा कारतूस,तीन मोबाइल बरामद

दरअसल घटना की सूचना के बाद नावकोठी थाना अध्यक्ष संतोष कुमार के नेतृत्व में दल बल के साथ पहुंचकर मौका ए वारदात से एक लोडेड देसी कट्टा,चार जिंदा कारतूस,तीन मोबाइल और दो लीटर देसी शराब के साथ तीन बदमाश को पुलिस ने समसा से गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि कोरोना बंदी के बीच बेगूसराय के विभिन्न क्षेत्रों में गोलीबारी की घटना लगातार हो रही है।

नावकोठी के थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि समसा के कैलू महतो एवं उसके दो पुत्रों दीपक महतो,महेश ऊर्फ महेश्वर महतो को बुधवार की देर रात गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि गुप्त सूचना मिली कि समसा गांव में बदमाश किसी वारदात को अंजाम देने के फिराक में हथियार के साथ इकट्ठा हो रहे हैं। वहीं गुप्त सूचना के आधार पर नावकोठी पुलिस हरकत में आ गई और उसे उसके घर से दबोच लिया।

थानाध्यक्ष के अनुसार दो दिन पूर्व में भी समसा गांव में बदमाशों ने गोलीबारी कर दहशत फैलाई थी। दरअसल स्थानीय लोगों के अनुसार इन दोनों अपराधियों का ही हाथ होने की बात बताई गई है।वहीं पुलिस के अनुसार कैलू महतो का दोनों पुत्र महेश महतो, दीपक महतो ,माधो महतो पर नावकोठी थाना में पिछले वर्ष 23 जुलाई को समसा की पूर्व मुखिया अरूणा देवी ने प्राथमिकी भी दर्ज करवाई थी। बता दें कि इस कांड में रणवीर महतो का पिता हरिनंदन महतो के साथ मारपीट कर अपहरण करने का मामला दर्ज था। इस कांड जुड़े अतिरिक्त अंकित नाम भी दिया गया था जो समसा के तुलसी महतो, रुबिया मंडल घूरन तांती, विजय रजक आदि अभियुक्त बनाए गए थे। मालूम हो कि तुलसी महतो की हत्या हो चुकी है। ये दोनों इस कांड में फरार चल रहे थे। छापेमारी के दौरान थानाध्यक्ष संतोष कुमार एवं अवर निरीक्षक त्रिभुवन कुमार ठाकुर अन्य पुलिस बल मौजूद थे।

Post a Comment

0 Comments