बिहार में पोस्टर पर महाभारत, ठग्स ऑफ बिहार - गॉगल्स लगा हीरो बने लालू

पटना। दिल्ली विधानसभा के चुनाव में वैसे तो भाजपा-जदयू और राजद की करारी हार हुई है, लेकिन अब असली लड़ाई बिहार में बाकी है। बिहार में राजद और जदयू के बीच पोस्टर वार जारी है और रोज नए पोस्टर जारी कर दोनों दल एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं। इसे चुनावी तैयारी या आप जो भी कह लें, लेकिन ये मजेदार पोस्टर लोगों का ध्यान बरबस अपनी ओर खींच रहे हैं।
जदयू के सिंहासन वाले पोस्टर के जवाब में राजद ने मंगलवार को फिर से दो नया पोस्टर जारी किया। एक पोस्टर में लिखा था 2020 नीतीश कुमार फिनिश, दूसरे पोस्टर में राजद ने बिहार के नक्शे को तीर से घायल दिखाया, जिससे खून निकल आया है। इसके साथ ही शिक्षा, स्वास्थ, बेरोजगारी, घोटाला, भ्रष्टाचार, बिगड़ती कानून व्यवस्था जैसे कई मामलों पर पोस्टर के जरिए जदयू के तीर चलाए गए हैं। 
राजद के इस पोस्टर के जवाब में जदयू ने बहुत ही कलरफुल और मजेदार पोस्टर जारी किया है, जिसमें लालू प्रसाद यादव को गॉगल्स लगाए हीरो की तरह दिखाया गया है और पोस्टर में लिखा है-लारा फिल्मस प्रेजेंट्स ठग्स अॉफ बिहार। पोस्टर के नीचे लिखा है जरा याद करो वो कहानी पुरानी।
जदयू ने यह पोस्टर पटना की मुख्य सड़क के किनारे लगवाया है, जो इतना मजेदार है कि सबका ध्यान अपनी ओर खींच ले रहा है। 
राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने मंगलवार को पोस्टर के बारे में कहा कि पोस्टर वार की शुरुआत तो जदयू ने ही की है और इसका अंत हम करेंगे। जदयू से पोस्टर के जरिए जो सवाल पूछे जा रहे हैं, उसका वो जवाब नहीं दे रही है। वो तो पहले ही मैदान छोड़कर भाग खड़ी हुई है। अब तो सच में ''2020 जेडीयू फिनिश" इसी पोस्टर से अंत होगा।
उनके इस बयान पर जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि "पोस्टर में लिखने से कुछ नहीं होता है। बिहार की जनता बेहाल है या बढ़िया यह बिहार की 11 करोड़ जनता तय करेगी। लेकिन तेजस्वी यादव पहले ये तो बताएं कि दिल्ली में क्या हुआ? बिहार में सरकार बनाएंगे, वो तो दिल्ली में पहले ही दिख गया कि जहां पूर्वांचल के लोग रहते हैं वहां भी इनका क्या हाल हुआ है, वहां मात्र 7 वोट मिले हैं। इसी से तय कर लें। आरजेडी लाख पोस्टर लगाए, होर्डिंग लगाए बिहार की जनता बरगलाने वाली नहीं है।

Post a Comment

0 Comments