दिल्ली हिंसा में बिहार के एक युवक मौत, होली में घर आने का किया था वादा, घर पर पसरा मातम

भोजपुर : देश की राजधानी दिल्ली में हिंसा की ऐसी आग लगी कि इसकी लपटें सैकड़ों किलोमीटर दूर बिहार के एक गांव में भी पहुंच गयी. दिल्ली में भड़की हिंसा ने बिहार के भोजपुर के एक युवक को भी निगल गया. सीएए के विरोध में दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान भोजपुर के निवासी स्व सूबेदार सिंह का 28 वर्षीय पुत्र दीपक कुमार की भी मृत्यु हो गयी है. 
आपको बता दें कि  दिल्ली में रह रहे दीपक कुमार शाहदरा में किसी फैक्ट्री में काम करते थें. मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को फैक्ट्री में छुट्टी थी जिसके कारण  वह दोस्तों के साथ होली के लिए बच्चों का कपड़ा खरीदने बाजार जा रहा थे और उसी बीच दो समुदायों के बीच ईंट पत्थर चलने लगा. दो समुदाय हो रहे पथराव के बीच दीपक को एक गोली आ लगी, जिससे उसकी मौत हो गयी. 
 
दीपक की मौत की सूचना दोस्तों ने उनके दिल्ली व गांव के परिजनों को दी. घटना के बाद दिल्ली पुलिस शव को बरामद कर अंत्यपरीक्षण करा परिजनों को शव सौंपा, शव शुक्रवार को सलेमपुर पहुंचेगा. इधर घटना की सूचना मिलते ही पत्नी सरिता देवी का रो-रो कर बुरा हाल है, वहीं तीनों बच्चे भी मां को रोता देख रो रहे हैं. परिवारवालों के अनुसार दीपक दस वर्षों से अपने भाइयों के साथ दिल्ली में रह फैक्ट्री में काम करता था,जो होली में घर आने वाला था. घटना के बाद घर में मातम पसर गया है.

Post a Comment

0 Comments