डीडीसी ने की सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान की समीक्षा बैठक, 2 दिसम्बर से अभियान की होगी शुरुआत

सहरसा: (अमीर झा) सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 अभियान के कुशल क्रियान्वयन को लेकर  सभागार भवन में  डीडीसी  राजेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में जिलास्तरीय समीक्षा बैठक की गई। डीडीसी श्री सिंह ने कहा कि जिले में 2 दिसंबर से सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान की शुरुआत की जाएगी।   नियमित टीकाकरण से वंचित बच्चों का अभियान चलाकर टीकाकरण किया जाएगा।   उन्होंने कहा  कि जिले में पांचो प्रखंड में टोटल 174 टीकाकरण साइट का प्लान किया गया है। जिसको हर हाल में शत-प्रतिशत कवरेज करना है।
सिविल सर्जन डॉ. ललन सिंह ने कहा जिले के पांच प्रखंडों में 2 दिसंबर से अभियान की शुरूआत की जायेगी।  इन प्रखंडों में टीकाकरण से वंचित बच्चों की संख्या कुछ अधिक है. इसलिए इन प्रखंडों में अभियान चलाकर शत-प्रतिशत बच्चों को प्रतिरक्षित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.  निर्धारित लक्ष्यो का ससमय वेब पोर्टल अपलोड करना सुनिशित किया जाए। उन्होंने बताया इस अभियान में स्वास्थ्य विभाग के साथ केयर, , डब्लएचओ और यूनिसेफ जैसी सहयोगी संस्थाएं भी सहयोग करेंगे.
चार चरणों में चलेगा अभियान: सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान चार चरणों में चलाया जाएगा। प्रथम चरण में 2 से 12 दिसबंर, दूसरे चरण में 6 से 16 जनवरी, तीसरे चरण में 3 से 13 फरवरी व चौथे चरण में 2 से 16 मार्च 2020 तक चलाया जाएगा। 

पांच प्रखंडों में चलेगा अभियान: 
विश्व स्वास्थ्य संगठन के एसआरटीएल राजेश कुमार वर्मा ने बताया कि   जिले के पांच ऐसे प्रखंडों को चिन्हित किया गया है जहां पर टीकाकरण का लक्ष्य काफी कम है।  जहां पर सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान चलाया जायेगा। उन्होंने बताया अभियान शुरु होने के पूर्प्रत्येक चक्र से पहले सभी संबंधित विभाग के साथ बैठक कर त्रुटियों को दूर किया जाएगा। साथी प्रोजेक्टर के माध्यम से मिशन इन धनुष अभियान पर चर्चा की गई।
जागरूकता पर होगा बल
यूनिसेफ के जिला  समन्वयक बनटेश नारायण मेहता  ने बताया कि विजिट कर समन्वय स्थापित करेंगे। गांव मुखिया, जनप्रतिनिधि से समन्वय स्थापित करना है। साथ प्रचार-प्रसार के लिए बैनर पोस्टर के माध्यम से लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। साथ ही उनके द्वारा बताया गया कि कि इसके लिए माता बैठक  समुदायस्तर पर किया जा रहा है। चक्र के दौरान बीएचएम आईसीडीएस की लेडीज सुपरवाइजर या स्वास्थ्य विभाग के अन्य  पदाधिकारी कर्मचारी को इन का प्रभार दिया जाएगा।  पर्यवेक्षण का उनके द्वारा उसका 100 100 में जांच करके रिपोर्ट प्रतिवेदन करना।

शिक्षा सुधार आंदोलन को लेकर रालोसपा ने निकाला मशाल जुलूस, बाद में फूंका मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन

कार्य-योजना के तहत होगा टीकाकरण: 

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद  ने बताया सघन मिशन इंद्रधनुष अभियान के लिए माइक्रोप्लान बनाया गया है। टीकाकरण के प्रतिदिन की रिपोर्ट प्रखंड से जिला स्वास्थ्य विभाग को भेजनी है। सभी आशा को ऐसे एरिया को सर्वे करने का निर्देश दिया गया है जहां के बच्चे नियमित टीकाकरण से वंचित है।   इसके साथ ही साप्ताहिक समीक्षा बैठक में भी इसके बारे में जानकारी देनी है।
इस अवसर पर डब्ल्यूएचओ के एसएमओ डॉ आशीष कुमार, यूनिसेफ एसएमसी वनटेश नारायण मेहता, मजरूल हक एस आर सी  अभय कांत श्रीवास्तव, यूएनडीपी  मोहम्मद खालिद, सीएफएआर के डिविजनल कोऑर्डिनेटर योगेश्वर कुमार राजा प्रतिरक्षण पदाधिकारी कार्यालय के कर्मी दिनेश कुमार दिनकर,प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, बीएचएम, बीसीएम, डब्ल्यूएचओ के मोहम्मद फिर्दोष आलम अन्य  स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे ।

Post a Comment

0 Comments