-->

मेरी ब्लॉग सूची

सीतामढ़ी में सेक्स रैकेट का पर्दाफास, संदिग्ध हालात में चार लड़कियों को लिया गया हिरासत में, एक युवक की भी मौत

सीतामढ़ी में सेक्स रैकेट का पर्दाफास, संदिग्ध हालात में चार लड़कियों को लिया गया हिरासत में, एक युवक की भी मौत

SITAMADHI: सीतामढ़ी के नगर थाना के रेड लाइट इलाके में शनिवार को एक एनजीओ  की निशानदेही पर देह व्यापार  के दलदल में फंसी युवतियों को पुलिस ने मुक्त कराया. पुलिस के पहुंचे से घबराए लोगों में एक 13 साल का किशोर पानी से भरे गड्ढे में कूद गया जिससे उसकी मौत हो गई. वहीं ने सेक्स रैकेट में शामिल चार युवतियों को हिरासत में लिया है और पुलिस के इस ऑपरेशन मे कई दलाल भी गिरफ्तार किए गए.

पानी में डूबने से बच्चे की हुई मौत पर रेड लाइट मे रहने वाले लोगों ने जमकर हंगामा किया और शव के साथ प्रदर्शन करने लगे. घटनास्थल का माहौल को तनावपूर्ण होते देख रेड लाइट में बड़ी तादाद में पुलिस बल को तैनात किया गया. स्थानीय लोग पुलिस पर एनजीओ के साथ मिलकर मुहल्ले के लोगो को तंग करने का आरोप भी लगा रहे थे. लोगों का कहना था कि एनजीओ के कर्मी उनसे हर महीने 1 लाख 50 हजार की मांग करते हैं. नहीं देने पर पुलिस के साथ मिलकर तंग करते है और मुहल्ले के पढ़ने लिखने वाली लड़कियों
को यह से पकड़ कर ले जाते हैं. 


सीतामढ़ी के अभियान एसपी समेत कई पुलिस के अधिकारी मौके पर मौजूद हैं. अभियान एसपी विजय शंकर सिंह का कहना है कि पुलिस को आता देख एक बच्चा भागने के क्रम में पानी में कूद गया और डूबने से उसकी मौत हो गई. मौके पर स्थिति सामान्य है. रेड लाइट जैसे मसले पर काम करने वाली एनजीओ के निशानदेही पर पुलिस द्वारा यह कर्रवाई की गई है. जिसमें चार देह व्यापार में लिप्त युवतियों को संदिग्ध हालात में हिरासत में लिया गया है. जिनसे पूछताछ की जा रही है. एएसपी अभियान ने यह भी कहा अगर हिरासत में लिए गए युवतियों पर आरोप सिद्ध नहीं होता है और समान्य तरीके से वे इस मुहल्ले में अगर रह रही है तो जांच के बाद पुलिस उन्हें रिहा कर देगी.

दरअसल एक एनजीओ का आरोप है कि सीतामढ़ी के वार्ड नम्बर 9 में सैक्स रैकेट का धंधा चल रहा है. एनजीओ ने पुलिस को बताया कि यहां तकरीबन 100 परिवार से ज्यादा लोग रहते हैं जो नाच गाने की आड़ में देह व्यापार का धंधा करते हैं. गाहे बगाहे यहां पुलिस की छापेमारी होती रहती है, जहां से जबरन यह धंधा कराने वाली युवतियों को मुक्त भी कराया गया है. तकरीबन एक साल पहले यहां एनजीओ के निशानदेही पर की गई छापेमारी में पुलिस ने नेपाल और बांग्लादेश की लड़कियों को इस दलदल से मुक्त कराया था.

0 Response to "सीतामढ़ी में सेक्स रैकेट का पर्दाफास, संदिग्ध हालात में चार लड़कियों को लिया गया हिरासत में, एक युवक की भी मौत "

एक टिप्पणी भेजें