-->

मेरी ब्लॉग सूची

 पुसा में कुलपति के भ्रष्टाचार के खिलाफ जन आंदोलन में उमड़ा जनसैलाब, किया रोषपूर्ण प्रदर्शन

पुसा में कुलपति के भ्रष्टाचार के खिलाफ जन आंदोलन में उमड़ा जनसैलाब, किया रोषपूर्ण प्रदर्शन


अमरदीप नारायण प्रसाद  

  

समस्तीपुर; - के पुसा में हुए कुलपति के भ्रस्टाचार के विरोध के मामले लोकसभा में उठेगा कुलपति के भ्रष्टाचार, नियुक्तियों में धांधली व चल-अचल संपत्ति की जांच का मामला, कुलपति की बर्खास्तगी तक जारी रहेगा आंदोलन :- धीरेन्द्र झा

   पूसा- समस्तीपुर के छात्र- युवाओं के लिए विश्वविद्यालय में होने वाली नियुक्तियों एवं शिक्षा में 50 प्रतिशत सीटों को आरक्षित किया जाए :- माले                                                                                                                     डाॅ. राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति एवं उप कुलसचिव( नियुक्ति) महेश हुड्डा को बर्खास्त करने, विवि में व्याप्त भ्रष्टाचार, नियुक्तियों में धांधली की जांच, पूसा- समस्तीपुर के छात्र- युवाओं के लिए विश्वविद्यालय में होने वाली नियुक्तियों एवं शिक्षा में 50 प्रतिशत सीटों को आरक्षित करने, कुलपति  द्वारा अपने पूर्व के कार्यस्थल पर के सहकर्मियों के बेटा, बेटी, दामाद एवं कुलपति की रिश्तेदार ऋचा श्रीवास्तव आदि की विश्वविद्यालय में गलत तरीके से की गई नियुक्ति की जांच करने समेत अन्य मांगो को लेकर भाकपा-माले जिला कमिटी के आह्वान पर पूसा चलो, कुलपति जवाब दो - हिसाब दो आंदोलन में जनसैलाब उमड़ पड़ा। सभा के दौरान तेज बारिश के बाद भी आंदोलनकारी डटे रहे। बारिश में ही आंदोलनकारियों ने सभा करके विश्वविद्यालय मुख्य गेट के सामने रोषपूर्ण प्रदर्शन करते हुए कुलपति के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

    आहूत आंदोलन को लेकर विश्वविद्यालय परिसर पुलिस छावनी में तब्दील था। कार्यकर्ताओं ने लोकतांत्रिक तरीके से  विवि के मुख्य गेट के सामने ही प्रदर्शन करके सभा की। 

    सभा की अध्यक्षता भाकपा-माले जिला सचिव प्रो. उमेश कुमार व संचालन भाकपा-माले  प्रखंड सचिव अमित कुमार ने की। 

         सभा में मुख्य वक्ता के रूप में शामिल भाकपा-माले के पोलित ब्यूरो सदस्य धीरेन्द्र झा ने संबोधन करते हुए कहा कि पूसा- समस्तीपुर के छात्र- युवाओं के लिए विश्वविद्यालय में होने वाली नियुक्तियों में 50 प्रतिशत सीटों को आरक्षित करना होगा। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय को लूट का अड्डा नहीं बनने दिया जाएगा। विश्वविद्यालय में कुलपति के द्वारा की जा रही भ्रष्टाचार, नियुक्तियों में धांधली व चल-अचल संपत्ति की जांच का मामला लोकसभा का सत्र चलते ही उठेगा। उन्होंने कहा कि कुलपति की बर्खास्तगी तक आंदोलन जारी रहेगा। भाकपा-माले इस लड़ाई को सड़क से संसद भवन तक लड़ेगी। 


       भाकपा-माले जिला सचिव प्रो. उमेश कुमार ने कहा कि कुलपति  द्वारा अपने पूर्व के कार्यस्थल पर के सहकर्मियों के बेटा, बेटी, दामाद एवं अपने सगे- संबंधियों की गलत तरीके से नियुक्ति की गई है। जिसमें कुलपति व उप कुलसचिव (नियुक्ति) की मुख्य भूमिका है। इसकी जाँच अति आवश्यक है। विश्वविद्यालय कृषि शोध व छात्रों के पठन पाठन के लिए है इसे भ्रष्टाचार का अड्डा नहीं बनने दिया जाएगा। सभा को डाॅ. प्रभात आइसा प्रखंड अध्यक्ष रौशन कुमार, भाकपा-माले जिला कमिटी सदस्य सुखलाल यादव, दिनेश कुमार, फूलबाबू सिंह, सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, बंदना सिंह, उपेन्द्र राय, रामचंद्र प्रधान, राम चंद्र पासवान,  मिथिलेश कुमार, राजकुमार सहनी, मनीषा कुमारी, सुनील कुमार, कल्याणपुर विधानसभा से महागठबंधन के भाकपा-माले प्रत्याशी रहे रंजीत राम ,माले नेता किशोर कुमार राय, रविन्द्र सिंह, महेश सिंह ,अखिलेश सिंह, सुरेश कुमार, दिनेश राय, राजाराम सिंह, रामविलास पासवान, आइसा जिलाध्यक्ष लोकेश राज, आइसा नेत्री प्रीति कुमारी,मयक गंगा पासवान, प्रखंड सचिव अजय कुमार, कुंदन कुमार, मनीष कुमार,मनीष यादव,अविनाश कुमार, प्रवीण कुमार,दिलीप राजा, दीपक यादव, दीपक यदुवंशी, जितेंद्र कुमार, मोहम्मद जावेद,दीपक कुमार, प्रवीण कुमार,तुषार कुमार, राजद नेता राजेश साहनी,पंकज कुमार, सुधांशु कुमार, विकास कुमार, सौरभ चौधरी, रंजीत कुमार, मणि शंकर समेत सैकड़ों लोग मौजूद थे।

0 Response to " पुसा में कुलपति के भ्रष्टाचार के खिलाफ जन आंदोलन में उमड़ा जनसैलाब, किया रोषपूर्ण प्रदर्शन"

एक टिप्पणी भेजें