-->

मेरी ब्लॉग सूची

बिहार के एंबुलेंस का राज्य स्तर पर ऑडिट कराओ - सुनील

बिहार के एंबुलेंस का राज्य स्तर पर ऑडिट कराओ - सुनील


समस्तीपुर:एंबुलेंस घोटाला और फर्जी तरीके से एंबुलेंस खरीद के जिम्मेवार स्वास्थ्य मंत्री को बर्खास्त करें सरकार - आइसा।

अमरदीप नारायण प्रसाद

बिहार में एंबुलेंस घोटाला को उजागर करने वाला पत्रकार, नेताओं पर से मुकदमा वापस लो, एंबुलेंस घोटाले बाज पर मुकदमा दर्ज करो - लोकेश

एंबुलेंस घोटाला और फर्जी एंबुलेंस खरीद के खिलाफ आइसा ने दिया धरना ।
आज आइसा ने शहर के विवेक विहार स्थित निजी आवास पर अपने में हाथों में मांगों से संबंधित कार्डबोर्ड लेकर लॉक डाउन का पालन करते हुए धरना दिया। जिसका अध्यक्षता आइसा जिला अध्यक्ष लोकेश राज तथा संचालन जिला सचिव सुनील कुमार किया।
वहीं धरना सभा को संबोधित करते हुए आइसा जिला सचिव सुनील कुमार ने कहा कि बिहार में जिस तरीके से एंबुलेंस घोटाला और एंबुलेंस खरीद के फर्जीवाड़ा उजागर हुआ है। इससे सरकार और स्वास्थ्य व्यवस्था का पोल खोल कर रख दी हैं। जब कोविड़ का दूसरा वेव चरम पर था। उस समय मरीज को अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस का अभाव था। निजी एंबुलेंस वाले मनमानी किराया वसूल रहे थे। जिस कारण परिजन साइकिल- मोटरसाइकिल और ठेला से अस्पताल मरीज को पहुंचा रहे थे। और सारण में दर्जनों एंबुलेंस भाजपा नेताओं ने छुपा कर रखा था तथा एंबुलेंस से बालू ढोई जा रही थी। उसके बाद बक्सर में एक ही एंबुलेंस को चार बार उद्घाटन करने का उद्भेदन करने वाले पत्रकार के ऊपर केंद्रीय राज्य स्वास्थ्य मंत्री ने एफ आई आर करवा दी।
वहीं अब स्वास्थ्य मंत्री के गृह जिला सीवान में 21 एंबुलेंस सरकार के आदेश के अवहेलना करते हुए जिम पोर्टल से नहीं खरीद कर प्राइवेट इंद्रासन ट्रेडिंग कंपनी से 8:50 लाख की एंबुलेंस 22 लाख में खरीदी गई और लाखों की घोटाला उजागर हुआ है। सरकारी पोर्टल गवर्नमेंट ई मार्केट "जीईएम" से एंबुलेंस एवं ऑक्सीजन गैस, मेडिकल इक्विपमेंट, हैंडीक्राफ्ट फर्नीचर कंप्यूटर और हार्डवेयर भी यहां उपलब्ध है। यहीं से सरकारी अधिकारी सामान खरीद सकते हैं। लेकिन ऐसा नहीं कर प्राइवेट कंपनी से फर्जी बिल बनाकर जनता के पैसों का दुरुपयोग किया गया है। जिसको उजागर करने वाले पत्रकारों एवं राजनैतिक कार्यकर्ताओं पर भाजपा - जदयू कि सरकार मुकदमा दर्ज कर एंबुलेंस घोटालेबाज एवं फर्जीवाड़े को बचाने में लगी हुई है।

आइसा मांग करती है कि फर्जी एंबुलेंस खरीद के दोषियों एवं एंबुलेंस घोटालेबाज पर अभिलंब कड़ी कार्रवाई करें, पूरे बिहार के एंबुलेंस का ऑडिट कराएं, स्वास्थ्य मंत्री को बर्खास्त करें एवं पत्रकारों पर फर्जी मुकदमे वापस ले अन्यथा आइसा चरणबद्ध आंदोलन चलाएगी।
धरना सभा कों आइसा जिला प्रभारी सुरेन्द्र प्रसाद सिंह कार्यालय सचिव राजू झा, जिला कमेटी सदस्य दीपक कु. यादव, आशीष कुमार देव, सोनू कुशवंशी, दीपक यदुवंशी इत्यादि ने संबोधित किया। सुनील कुमार
जिला सचिव आइसा समस्तीपुर

0 Response to "बिहार के एंबुलेंस का राज्य स्तर पर ऑडिट कराओ - सुनील"

एक टिप्पणी भेजें