-->

मेरी ब्लॉग सूची

बीजेपी में शाम‍िल हुए 'रामायण' के 'श्री राम' अरुण गोविल, अब लगेगी नैया पार!

बीजेपी में शाम‍िल हुए 'रामायण' के 'श्री राम' अरुण गोविल, अब लगेगी नैया पार!


DESK:
रामानंद सागर की 'रामायण' में भगवान राम का किरदार निभाकर घर-घर मशहूर हुए अरुण गोविल बीजेपी में शामिल हो गए हैं। उन्होंने गुरुवार को पार्टी के कार्यालय में सदस्यता ग्रहण की। पिछले कुछ वक्त से चर्चा थी कि 
अरुण गोविल बीजेपी में शामिल हो सकते हैं, ज‍िस पर अब मुहर लग चुकी है। अरुण गोविल की बीजेपी में एंट्री ऐसे समय हुई है, जब पार्टी पश्‍च‍िम बंगाल में ममता बनर्जी के किले को फतह करना चाहती है। यही नहीं, बंगाल के चुनावी माहौल में 'जय श्री राम' का नारा भी बड़ा मुद्दा है। ऐसे में टीवी के 'श्री राम' का बीजेपी में आना राजनीतिक गलियारों में सांकेतिक रूप से भी अहम हो जाता है। बताया जाता है कि अरुण गोविल पश्‍च‍िम बंगाल में पार्टी के लिए चुनाव प्रचार भी करेंगे।

शामिल होते ही बांधे PM मोदी के तारीफों के पुल
अरुण गोविल ने गुरुवार को दिल्‍ली में बीजेपी कार्यालय में पार्टी की सदस्‍यता ली। इस दौरान बीजेपी के राष्‍ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने उनका पार्टी में स्‍वागत किया। सदस्‍यता ग्रहण करने के बाद अरुण गोविल ने कहा, 'इस समय जो हमारा कर्तव्‍य है वो करना चाहिए। मुझे राजनीति आज से पहले समझ नहीं आती थी। लेकिन मोदी जी ने जब से देश को संभाला है तब से देश की परिभाषा ही बदल गई है। मेरे दिल दिमाग में जो होता है कर देता हूं।'
 

अरुण गोविल ने आगे कहा कि अब मैं देश के लिए योगदान देना चाहता हूं। इस‍के लिए हमें एक मंच की जरूरत होती है। बीजेपी आज इसके लिए सबसे अच्‍छा मंच है। दिलचस्‍प है कि बीजेपी में शामिल होते ही आम तौर पर शांत दिखने वाले अरुण गोविल ने आक्रामक अंदाज भी अपना लिया। उन्‍होंने ममता बनर्जी पर सीधा वार करते हुए कहा, 'मैंने पहली बार देखा कि ममता बनर्जी को 'जय श्री राम' के नारे से एलर्जी हुई। जय श्री राम केवल एक नारा नहीं है।'

'रामायण' के 'रावण' और 'सीता' भी बीजेपी का हिस्सा
बता दें कि बीजेपी के टिकट पर ही 'रामायण' में रावण का किरदार निभाने वाले अरविंद त्रिवेदी ने साल 1991 में चुनाव लड़ा था। उस वक्त उन्होंने गुजरात के साबरकांठा सीट से चुनाव जीता था। 'रामायण' की 'सीता' यानी दीपिका चिखलिया ने भी बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ा। उन्होंने 1991 में गुजरात की बड़ोदा सीट पर चुनाव लड़ा था और जीता भी।

0 Response to "बीजेपी में शाम‍िल हुए 'रामायण' के 'श्री राम' अरुण गोविल, अब लगेगी नैया पार!"

एक टिप्पणी भेजें