-->

मेरी ब्लॉग सूची

बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा: पहले दिन 163 परीक्षार्थी हुए निष्कासित, Exam शुरू होने के 10 मिनट तक ही मिला प्रवेश, कई केंद्रों पर उपस्थिति रही कम

बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा: पहले दिन 163 परीक्षार्थी हुए निष्कासित, Exam शुरू होने के 10 मिनट तक ही मिला प्रवेश, कई केंद्रों पर उपस्थिति रही कम


BSEB Bihar Board Inter Exam 2021: बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा सोमवार से शुरू हो गई। कोरोना काल में हो रही परीक्षा में सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पर जोर रहा। बिना मास्क के आए छात्रों को प्रवेश नहीं दिया गया। प्रदेश भर में पहले दिन की परीक्षा शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। 

13 फरवरी तक चलने वाली इंटर वार्षिक परीक्षा के पहले दिन राज्य भर के 23 जिलों में 163 परीक्षार्थी निष्कासित किये गये। 15 जिलों से एक भी परीक्षार्थी निष्कासित नहीं हुए। सबसे ज्यादा भोजपुर से 33, जमुई से 29 और नालंदा से 28 परीक्षार्थी निष्कासित हुए। पटना जिला से बाढ़ प्रखंड से एक छात्र को निष्कासित किया गया। प्रदेश के 1473 केंद्रों पर कदाचार मुक्त परीक्षा के लिए सभी केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि राज्य भर में शांतिपूर्ण परीक्षा रही। 

केंद्र पर प्रवेश से पहले हर परीक्षार्थी की जांच की गई। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए ज्यादातर केंद्रों पर गोला बना कर परीक्षार्थियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग रखी गयी थी। परीक्षा ठीक 9.30 बजे शुरू हुई। पहले ओएमआर उत्तर पत्रक और उत्तरपुस्तिका परीक्षार्थी को दिया गया। इसके पांच मिनट के बाद 9.35 बजे पर प्रश्न पत्र दिया गया। इसके दस मिनट के बाद 9.45 बजे पर परीक्षा शुरू हुई। परीक्षा के पहले दिन प्रदेश भर से कई परीक्षार्थी निष्कासित हुए। 

पहले दिन भौतिकी और राजनीति शास्त्र की हुई परीक्षा 
परीक्षा के पहले दिन प्रथम पाली में भौतिकी विषय और दूसरी पाली में राजनीति शास्त्र और वोकेशनल कोर्स के हिन्दी विषय की परीक्षा ली गयी। पहले दिन की परीक्षा में नौ लाख 13 हजार 198 परीक्षार्थी को शामिल होना था। लेकिन कई केंद्रों पर देर से पहुंचने के कारण परीक्षार्थी अंदर नहीं जा सके। हालांकि कई केंद्रों पर निर्धारित प्रवेश समय के बाद भी परीक्षार्थियों को प्रवेश करवाया गया। बिहार बोर्ड की मानें तो प्रदेश के ज्यादातर केंद्र पर पांच से आठ फीसदी उपस्थिति कम थी। 

मॉडल केंद्र पर परीक्षा दे खुश थीं छात्राएं 
बिहार बोर्ड ने सभी जिले में चार-चार मॉडल केंद्र बनाये थे। इन केंद्रों को फूल और गुब्बारे से सजाया गया था। पटना जिले की बात करें तो मॉडल केंद्र पर प्रवेश के समय छात्राएं काफी खुश थीं। बांकीपुर बालिका हाई स्कूल केंद्र पर पहुंची छात्रा रोशनी ने बताया कि सजा हुआ केंद्र देख कर मानसिक तौर पर राहत मिली है। काफी अच्छा लगा है। वहीं, प्रियंका ने बताया कि केंद्र देखकर बहुत अच्छा लग रहा है। 

अतिरिक्त प्रश्न विकल्प से खुश थे छात्र 
कोरोना संक्रमण के कारण बिहार बोर्ड ने पहली बार सभी विषयों में सौ फीसदी अतिरिक्त प्रश्न का विकल्प दिया है। अतिरिक्त विकल्प से परीक्षार्थी काफी खुश थे। मिलर हाई स्कूल केंद्र पर परीक्षा देकर लौटे पियूष ने बताया कि हर चैप्टर से प्रश्न पूछे गए थे। हर प्रश्न में विकल्प वाले प्रश्न थे। इससे उत्तर देने में सुविधा हुई और प्रश्न नहीं छूटा। ज्ञात हो कि इंटर परीक्षा में प्रश्न पत्र का दस सेट (ए से आई तक)  था। एक बेंच पर बैठे दो छात्र को अलग-अलग सेट दिया गया था। 

भौतिकी में सौ फीसदी एनसीईआरटी से पूछा गया प्रश्न
इंटर परीक्षा के प्रथम पाली में भौतिकी विषय और दूसरी पाली में राजनीति शास्त्र की परीक्षा थी। दोनो ही विषय में प्रश्न एनसीईआरटी पाठ्यक्रम से पूछा गया था। भौतिकी विषय के विशेषज्ञ प्रो. शंकर कुमार ने बताया कि प्रश्न आसान था। सौ फीसदी एनसीईआरटी सिलेबस से प्रश्न था। सबसे ज्यादा आप्टिक्स और आधुनिक भौतिकी चैप्टर से प्रश्न था। न्यूमेरिकल बहुत कम पूछा गया था। कोई भी प्रश्न घुमावदार नहीं था। वहीं, राजनीति शास्त्र के शिक्षक विजय कुमार ने बताया कि प्रश्न अच्छा था। अतिरिक्त विकल्प मिलने का फायदा छात्रों को मिला। 

मॉडल प्रश्नपत्र को वायरल कर फैलायी अफवाह 
परीक्षा शुरू होने के पहले असमाजिक तत्वों द्वारा बिहार बोर्ड द्वारा जारी मॉडल प्रश्नपत्र को वायरल कर दिया गया। प्रश्न पत्र के साथ उनके उत्तर भी शामिल था। केंद्र पर पहुंच चुके परीक्षार्थी अपने मोबाइल पर प्रश्नपत्र और उनके उत्तर को देखकर खुश भी हो रहे थे। लेकिन परीक्षा समाप्त होने के बाद जब मिलाया गया तो पता चला कि वायरल प्रश्न पत्र मॉडल प्रश्न पत्र निकला। यही स्थिति दूसरी पाली के राजनीति शास्त्र के प्रश्नपत्र को भी वायरल कर अफवाह फैलायी गयी। 

मंगलवार को होगी गणित और भूगोल की परीक्षा 
इंटर परीक्षा के दूसरे दिन कला और विज्ञान संकाय के गणित विषय की परीक्षा ली जायेगी। इसके अलावा कला संकाय के भूगोल विषय की परीक्षा भी ली जायेगी। इसके अलावा वोकेशनल कोर्स के अंग्रेजी विषय की परीक्षा ली जायेगी। प्रथम पाली में विज्ञान और कला संकाय गणित विषय की परीक्षा सुबह 9.30 से 12.45 बजे तक ली जायेगी। वहीं, भूगोल विषय और वोकेशनल विषय के अंग्रेजी विषय की परीक्षा दूसरी पाली में ली जायेगी। दूसरी पाली की परीक्षा 1.45 से पांच बजे तक होगा। 

      जिलावार निष्कासित परीक्षार्थी की संख्या 


      जिला        -    निष्कासित परीक्षार्थी की संख्या 

  1. पटना         -       01
  2. नालंदा        -       28 
  3. भोजपुर        -     33
  4. बक्सर        -      01
  5. रोहतास       -      05
  6. गया         -       05 
  7. औरंगाबाद     -      10 
  8. अरवल        -     03
  9. सीतामढ़ी       -    02
  10. सारण         -     06
  11. सीवान        -      07
  12. दरभंगा        -      03
  13. मधुबनी        -      05
  14. समस्तीपुर      -       02
  15. सहरसा         -     02
  16. सुपौल          -    01
  17. मधेपुरा        -     05
  18. भागलपुर       -    05
  19. मुंगेर          -    06
  20. जमुई          -   29 
  21. खगड़िया        -   01
  22. बेगूसराय       -     02
  23. अररिया       -      01

0 Response to "बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा: पहले दिन 163 परीक्षार्थी हुए निष्कासित, Exam शुरू होने के 10 मिनट तक ही मिला प्रवेश, कई केंद्रों पर उपस्थिति रही कम"

टिप्पणी पोस्ट करें