-->

मेरी ब्लॉग सूची

पप्पू यादव ने वीरों की धरती से शुरू की किसान मजदूर रोजगार सभा, कहा- किसानों का हक पूंजीपतियों को दे दिया

पप्पू यादव ने वीरों की धरती से शुरू की किसान मजदूर रोजगार सभा, कहा- किसानों का हक पूंजीपतियों को दे दिया

जगदीशपुर/आरा (सूरज कुमार राठी)।
जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजेश रंजन (पप्पू यादव) ने कहा कि मोदी सरकार ने किसानों का हक पूंजीपतियों को दे दिया। भारत के मजदूर, किसान व खुदरा बाजार विश्व की इकॉनमी को चुनौती देते हैं, लेकिन सरकार किसान-मजदूर को कमजोर करने व खुदरा बाजार को खत्म करने पर तुली है। वह मंगलवार को नगर पंचायत, जगदीशपुर स्थित शारदा ब्रजराज खेल मैदान में आयोजित किसान मजदूर रोजगार सभा को संबोधित कर रहे थे। पप्पू यादव ने कहा कि किसानों को मात्र इतना कहना है कि यदि सरकार एक राष्ट्र, एक आर्थिक नीति तय करना चाहती है तो उसके लिए कृषि को उद्योग का दर्जा दे दीजिए अथवा एक कमेटी का गठन कीजिए जो किसानों की लागत व उसकी मेहनत की कीमत स्वयं किसान तय करें। यदि सरकार एमएसपी की बात करती है तो उस पर ही कानून बना दिया जाये। उन्होंने कहा कि सात दिन हम भूख हड़ताल पर रहे, पुलिस की लाठियां, आंसू गैस, पानी झेला। आगे पप्पू यादव ने कहा कि बिहार के किसान जाति, धर्म, मजहब में बंटा हुआ है व भूल गया है कि वह किसान है। किसानों को जागृत करने की जरूरत है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि किसान के सवाल पर सभी राजनीतिक दल एक हो व ट्वीट-ट्वीट न खेल कर सड़कों पर संघर्ष करें।


इतना झूठा प्रधानमंत्री व झूठी सरकार नहीं हुई

पप्पू यादव ने कहा कि मोदी सरकार ने नोटबंदी करते समय हालात सामान्य होने के लिए 21 दिन का समय, जीएसटी में 51 दिन का समय दिया था। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। नोटबंदी में पंक्ति में खड़े-खड़े न जाने कितने लोगों की मौत हो गई। जीएसटी में सरकार ने सबको चोर बना दिया। नोटबंदी के लिए काला धन वापस आने का तर्क दिया। उन्होंने कहा कि सरकार की हर कदम पर भारत की आर्थिक दशा खराब हुई। कोरोना वायरस में सरकार ने मजदूरों के अधिकारों को ही समाप्त कर दिया। इतिहास में इतना झूठा प्रधानमंत्री व झूठी सरकार नहीं हुई। भाजपा कोरोना वायरस वैक्सीन का राजनीतिकरण कर रही है।

वीर कुंवर सिंह के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया नमन

पप्पू यादव ने पार्टी के नेताओं के साथ ऐतिहासिक वीर कुंवर सिंह किला परिसर पहुंचे। यहां पहुंच कर उन्होंने सन 1857 के महानायक बाबू वीर कुंवर सिंह के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर नमन किया। इसके पहले उन्होंने दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में जान गंवाने वाले किसानों को एक मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की। कुंवर सिंह के धरती से किसान मजदूर रोजगार सभा का शुभारंभ किया। जो पूरे सूबे में सभा का आयोजन होगा। पूर्व विधायक सह पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भाई दिनेश यादव के अगुवाई में सभा का आयोजन किया गया। इसमें किसानों ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के बातों को सुने।

भाजपा सरकार प्यार को भी हिंदू मुसलमान से जोड़ दिया

पप्पू यादव ने कहा कि सबसे ज्यादा प्यार तो पूंजीपति, नेताओं और बड़े घरानों के लड़का-लड़की करते है। भाजपा सरकार प्यार को भी हिंदू मुसलमान से जोड़ दिया। उन्होंने कहा कि देश में सबको अपने अधिकार से जीने का हक है। लेकिन सरकार अधिकार को छीन रही है।

जगह-जगह पार्टी के नेताओं ने किया स्वागत 

पप्पू यादव आरा से जैसे ही जगदीशपुर के लिए रवाना हुए तो पार्टी के नेताओं ने आरा-मोहनिया नेशनल हाईवे मार्ग एनएच थर्टी पर ईसाढी बाजार, नारायणपुर व नया टोला मोड़ समेत अन्य जगहों पर पार्टी के नेताओं ने गर्मजोशी के साथ भव्य स्वागत किया। इस सम्मान को पाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष गदगद दिखे।

समान काम-समान वेतन को लेकर सौंपा ज्ञापन

पप्पु यादव को बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष पंकज कुमार सिंह मंटु के नेतृत्व में समान काम-समान वेतन को लेकर ज्ञापन सौंपा। संघ के जिलाध्यक्ष पंकज कुमार सिंह मंटु ने बताया कि शिक्षकों के लडाई में  पप्पु यादव संसद से लेकर सदन तक शिक्षकों के साथ खड़े रहे। इस मौके पर जिला सचिव उपेन्द्र कुमार सिंह, प्रखण्ड अध्यक्ष किंग अभिषेक क्षत्रप सहित अन्य मौजूद रहे।

0 Response to "पप्पू यादव ने वीरों की धरती से शुरू की किसान मजदूर रोजगार सभा, कहा- किसानों का हक पूंजीपतियों को दे दिया "

टिप्पणी पोस्ट करें