रंग ला रहा है नपं प्रभारी मुख्य पार्षद का प्रयास,जगदीशपुर बनेगा नगर परिषद, एसडीएम ने चयनित क्षेत्रों का लिया जायजा

रिपोर्ट:- सूरज कुमार राठी


जगदीशपुर (भोजपुर)। नगर पंचायत को नगर परिषद के रूप में प्रोन्नत करने की कवायद तेज हो गयी है। इसके साथ-साथ ही प्रभारी मुख्य पार्षद का प्रयास भी रंग ला रहा है। शनिवार को नपं प्रभारी मुख्य पार्षद संतोष कुमार यादव संग वार्ड पार्षदों का दल जगदीशपुर एसडीएम सीमा कुमारी के साथ नगर परिषद बनाने के लिए बढ़ाए गए इर्द-गिर्द के क्षेत्रों का निरीक्षण किया। इस दौरान प्रभारी कार्यपालक पदाधिकारी कृष्ण मुरारी भी मौजूद थे। नपं प्रभारी मुख्य पार्षद ने बताया कि नगर से सटे आस-पास के गांवों को जोड़कर नपं को नगर परिषद के रूप में मान्यता देने का अनुरोध किया गया है। जबकि नगर पंचायत की आबादी के हिसाब से नगर परिषद की मानकों को पूरा कर रहा है। यहां की आबादी 42 हजार के करीब है। उन्होंने बताया कि सरकार को भेजे गए प्रस्ताव की अगर मंजूरी मिल जाती है तो नगर पंचायत नगर परिषद बन जाएगा। गौरतलब हो कि बीते दिनों बोर्ड की बैठक में सर्वसम्मति से नपं बनाने को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया गया था। जिसको नगर विकास व भोजपुर जिला पदाधिकारी को पारित प्रस्ताव की प्रति प्रेषित किया गया था। इस मौके पर वार्ड पार्षद अर्जुन प्रसाद, सुरेंद्र शाह, संजय पासवान व मुना चौधरी समेत धुरूप जी थे।

दायरा बढ़ने से बढ़ेगी फंडिंग,इससे विकास की गति को मिलेगा रफ्तार

जगदीशपुर के नगर परिषद बनने से आस-पास के इलाकों के शामिल करने से शहरीकरण हो जाएगा। संतोष यादव ने बताया कि दायरा बढ़ने इसे फंडिंग ज्यादा होगी। इससे विकास की गति को रफ्तार मिलेगी। एक तो नगर को स्मार्ट सिटी की तर्ज पर विकसित करने का अवसर मिलेगा। नगर परिषद का दर्जा मिलते ही एक तरफ वार्डों की संख्या बढ़ेगी तो दूसरी तरफ अधिकार भी ज्यादा बढ़ेगा। इसको लेकर क्षेत्र के लोगों में भी खुशी देखी जा रही है।

Post a Comment

और नया पुराने

BIHAR

LATEST