-->

मेरी ब्लॉग सूची

दारोगा अभ्यर्थी छात्रा की संदेहास्पद मौत, पंखे से लटकी मिली लाश के गले में छेद, तफ्तीश जारी

दारोगा अभ्यर्थी छात्रा की संदेहास्पद मौत, पंखे से लटकी मिली लाश के गले में छेद, तफ्तीश जारी

पटना. पत्रकारनगर थाना इलाके में राजेंद्रनगर टर्मिनल के पास कैलाश अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 313 में रहने वाली छात्रा निभा साह की संदिग्ध परिस्थिति में माैत हाे गई. 24 साल की निभा ने खुदकुशी की या उसकी हत्या हुई, इसका खुलासा नहीं हाे सका है. निभा के परिजनाें का कहना है कि उसने सुसाइड नहीं की है बल्कि उसकी हत्या हुई है. उसके कमरे का गेट खुला हुआ था और जिस पंखे में उसकी लाश लटकी थी, वह पंखा टेढ़ा नहीं हुआ है. उसके गर्दन पर छेद है. सूचना मिलने के बाद माैके प पहुंची पुलिस ने शव बरामद किया औरर पाेस्टमार्टम कराने के बाद परिजनाें के हवाले कर दिया. परिजन शुक्रवार की देर रात लाश लेकर फारबिसगंज चले गए.


निभा फारबिसगंज के रहने वाले आलू-प्याज के फारबिसगंज में थाेक काराेबारी की छाेटी बेटी थी. वह पटना में दाराेगा परीक्षा की तैयारी करने के साथ अन्य प्रतियाेगिता परीक्षा की भी तैयारी कर रही थी. निभा की बड़ी बहन बेेंगलुरु में यूपीएससी की तैयारी करती है. निभा काे दाे भाई हैं.

निभा के भाई बिट्टू का कहना है कि गुरुवार की रात 11.30 बजे रात में उससे बात हुई थी. वह ठीक-ठाक थी. शुक्रवार की सुबह वह दाैड़ने भी गई थी. जिस ड्रेस में वह गई, उसी में उसका शव मिला. बिट्टू का कहना है कि फ्लैट में उसके दाे दाेस्त आ थे. उन दाेनाें का माेबाइल बंद है. फ्लैट मालिक भी कुछ साफ नहीं बता रहे हैं. सीसीटीवी भी काम नहीं कर रहा है.

निभा के भाई का कहना है कि पुलिस इस मामले की गंभीरता से जांच करे क्योंकि हर परिस्थिति बता रही है कि उसकी हत्या हुई है. इधर, सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार ने बताया कि पाेस्टमार्टम रिपाेर्ट में पत चल जाएगा कि उसकी माैत कैसे हुई. पुलिस सभी संभावित बिंदुओं पर छानबीन करने में जुटी है.

0 Response to "दारोगा अभ्यर्थी छात्रा की संदेहास्पद मौत, पंखे से लटकी मिली लाश के गले में छेद, तफ्तीश जारी"

टिप्पणी पोस्ट करें