-->

मेरी ब्लॉग सूची

प्रेमी की शादी की खबर सुनकर बंगाल से बिहार पहुंची प्रेमिका, फिर जो हुआ वो किसी ड्रामा फिल्म से कम नहीं

प्रेमी की शादी की खबर सुनकर बंगाल से बिहार पहुंची प्रेमिका, फिर जो हुआ वो किसी ड्रामा फिल्म से कम नहीं

दरभंगा: कहा जाता है कि प्यार में लोग सात समंदर पार कर लेते हैं. ऐसे में जब एक ही देश में रहकर प्रेमी किसी और से शादी करने लगे तो प्रेमिका क्यों ना पहुंचे? बिहार के दरभंगा जिले से गुरुवार को लव मैरिज का ऐसा मामला सामने आया है जो किसी हिंदी ड्रामा फ़िल्म से कम नहीं है. मामला जिले के मनीगाछी थाना क्षेत्र के बाजितपुर ओपी के माउंबेहट का है, जहां बंगाल से आई प्रेमिका प्रेमी के बारात निकलने से ठीक पहले पहुंची और शादी रुकवा दी.

दरअसल, उक्त गांव निवासी युवक बासुकीनाथ और मधुबनी के बेनीपट्टी निवासी युवती काजल दोनों कोलकाता में एक साथ काम करते थे. वहीं, दोनों का प्रेम परवान चढ़ा. दोनों ने साथ जीने-मरने की कसमें खायीं. तीन साल साथ रहने के बाद युवक वापस अपने गांव आ गया. गांव आने के बाद परिजनों ने युवक की शादी युवती के गांव की ही लड़की से तय कर दी.


सारा कुछ तय होने के बाद सभी शादी की तैयारी में जुटे. लेकिन मंगलवार को जैसे ही बासुकीनाथ की बारात निकलने लगी काजल कोलकाता से उसके गांव पहुंची और बारात रोक दी. बारात रोकने के बाद उनसे सारी सच्चाई बताई और युवक से शादी कराने की गुहार लगाई. लेकिन युवक के परिजनों ने काजल को नकार दिया.

ऐसे में काजल बाजीतपुर पुलिस के पास पहुंची और मदद की गुहार लगाई. इसके बाद पुलिस ने युवती के आवेदन के आलोक में कार्रवाई की और प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया. इधर, जब इस बात की जानकारी बासुकीनाथ के होने वाली बीवी के घरवालों को मिली तो उन्होंने शादी तोड़ दी और अपनी बेटी की उसी दिन किसी और से शादी करा दी.

इधर, काजल के परिजन भी थाने पहुंचे जहां दोनों पक्षों की ओर से पुलिस ने समझौता पत्र लिया. इसके बाद दोनों प्रेमी और प्रेमिका की शादी परिवार सहित समाज के लोगों की मौजूदगी में दरभंगा के श्यामा माई मंदिर में कराई गई.

0 Response to "प्रेमी की शादी की खबर सुनकर बंगाल से बिहार पहुंची प्रेमिका, फिर जो हुआ वो किसी ड्रामा फिल्म से कम नहीं"

टिप्पणी पोस्ट करें