-->

मेरी ब्लॉग सूची

निगरानी के हत्थे चढ़ा रिश्वतखोर जिला कृषि पदाधिकारी, ले रहे थे डेढ़ लाख घुस

निगरानी के हत्थे चढ़ा रिश्वतखोर जिला कृषि पदाधिकारी, ले रहे थे डेढ़ लाख घुस

पूर्णिया ( राजा झा) : पटना से पूर्णिया पहुंची निगरानी अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने एक बड़ी कार्रवाई की है। जिला कृषि पदाधिकारी शंकर झा को डेढ़ लाख रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। इस कार्रवाई को निगरानी की टीम ने जिला कृषि पदाधिकारी के दफ्तर में ही छापेमारी कर अंजाम दिया। शंकर झा के खिलाफ खाद-बीज व्यवसायी आलोक चौधरी उर्फ बमबम ने निगरानी मुख्यालय में एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें जिला कृषि पदाधिकारी पर खाद-बीज दुकान का लाइसेंस वापस बहाल करने के लिए 1.5 लाख रुपए घूस मांगने का आरोप लगाया था।


मुख्यालय के आदेश पर कार्रवाई

इसके बाद ही मुख्यालय के आदेश पर आरोपों की जांच और पूरे मामले की पड़ताल के लिए एक स्पेशल टीम बनाई गई। टीम को लीड करने की जिम्मेवारी DSP विमलेंदु कुमार को दी गई, जिसके बाद मंगलवार को यह टीम पूर्णिया पहुंची। जिला कृषि पदाधिकारी के ऑफिस में पूरा जाल बिछाया। इसके बाद जैसे ही शिकायत करने वाला शख्स रुपए लेकर वहां पहुंचा और शंकर झा ने उसे लिया वैसे ही निगरानी ने वहां पहुंच गई।

6 माह पहले एक दर्जन दुकानों का लाइसेंस रद्द किया था

निगरानी के DSP विमलेंदु कुमार वर्मा के अनुसार जिला कृषि पदाधिकारी शंकर झा को निगरानी की टीम ने डेढ़ लाख रुपया रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। जिला कृषि पदाधिकारी ने खाद- बीच व्यवसायी आलोक चौधरी उर्फ बमबम के खाद-बीज दुकान का लाइसेंस 6 माह पहले रद्द कर दिया था। वापस लाइसेंस बहाल करने के एवज में 1.5 लाख रुपए घूस का डिमांड किया था। बमबम चौधरी ने इस मामले की शिकायत निगरानी में की थी, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।

6 माह पहले भी जिला कृषि पदाधिकारी शंकर झा ने करीब एक दर्जन खाद-बीज व्यवसायियों पर कार्रवाई करते हुए उनकी दुकान का लाइसेंस रद्द कर दिया था। इसमें आलोक चौधरी उर्फ बमबम भी शामिल थे। उस समय इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था। इसमें जिला कृषि पदाधिकारी काफी चर्चा में आए थे।

0 Response to "निगरानी के हत्थे चढ़ा रिश्वतखोर जिला कृषि पदाधिकारी, ले रहे थे डेढ़ लाख घुस "

एक टिप्पणी भेजें