बिहार चुनाव: तेज प्रताप यादव ने मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड का जोड़ा नवरात्रि कनेक्शन, सीएम नीतीश के लिए कही यह बात


पटना.
 बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार में सभी सियासी दलों ने अपनी ताकत झोंक दी है. ग्राउंड जीरो से लेकर सोशल मीडिया तक हर नेता-कार्यकर्ता एक्टिव हैं. राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव भी चुनावी सभाओं के साथ ही सोशल मीडिया पर भी सक्रिय हैं. इसी क्रम में उन्होंने बिहारवासियों को नवरात्रि की शुभकामना अपने ट्विटर हैंडल से दी है. हालांकि यहां भी राजनीति को साधने की कोशिश की है. दरअसल नवरात्रि को उन्होंने मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड से जोड़ते हुए सीएम नीतीश कुमार  के खिलाफ हमला बोलने के लिए इस्तेमाल किया है.

तेज प्रताप यादव अपने ट्विटर पर लिखा,  आप सभी को नवरात्रि की बहुत-बहुत बधाई. हे जनमानस, बालिका गृह कांड जैसा घिनौना कुकृत्य करने वाले सृजनकारी राक्षसों का इस नवरात्र "उद्धार" जरूर करना!

बता दें कि इससे पहले महागठबंधन ने नवरात्रि के मौके पर कॉमन मेनिफेस्टो जारी किया है. इस मौके पर तेज प्रताप यादव के छोटे भाई व नेता प्रतिपक्ष  तेजस्वी यादव ने बिहारवासियों को नवरात्रि की शुभकामनाएं देते हुए बिहार में नीतीश सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया है. उन्होंने कहा कि नवरात्रि (Navratri) का पहला दिन है और आज हम लोग कलश का स्थापना कर संकल्प लेते हैं. हमने भी अपने घर में कलश की स्थापना की है और संकल्प लिया है. 'प्रण हमारा संकल्प बदलाव का' ये सच होने वाला है.

इससे पहले तेज प्रताप यादव की माता व बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने शुक्रवार को  नीतीश सरकार  पर हमला बोला था. पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा, 'नाम मत लो उनका. नीतीश-बीजेपी ने 34 अनाथ बच्चियों के बलात्कारियों और उनके संरक्षकों को टिकट से नवाज़ा है. इनके राक्षस राज में महिलाएं और बच्चियां सुरक्षित नहीं हैं. हर चार घंटे में दुष्कर्म की घटना होती है. बिहार को इन्होंने बलात्कार प्रदेश बना दिया है. NCRB के आंकड़े इसके गवाह हैं.'

Post a Comment

0 Comments