गया में विपक्षियों पर गरजे नड्डा- जेपी की वजह से आगे बढ़ने वाले आज दे रहे कांग्रेस का साथ


 DESK:
बिहार विधानसभा चुनाव 2020 के लिए अपने प्रत्याशियों के लिए प्रचार करने गया पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने विपक्षियों पर जमकर निशाना साधा। आज हुई उनकी रैली में उनके निशाने पर विशेषकर वो लोग थे जो जेपी के आंदोलन से निकले और नेता बन गए। नड्डा ने कहा कि जय प्रकाश नारायण की वजह से आगे बढ़ने वाले आज कांग्रेस का साथ दे रहे हैं। उनकी विचारधारा से समझौता कर लिया है।

संपूर्ण क्रांति का जिक्र करते हुए जेपी नड्डा ने कहा कि यह अलग बता है कि जो नेता जय प्रकाश नारायण के आशीर्वाद से राज नेता बने, एक बार नहीं तीन-तीन बार मुख्यमंत्री बने। जिस जय प्रकाश नारायण ने कांग्रेस पार्टी को अलग कर के जनता पार्टी बनाई थी। उस जय प्रकाश नारायण के शिष्य होने के बावजूद आज की परिस्थिति में कांग्रेस को गले लगाकर चल रहे हैं। ऐसे लोगों ने जेपी की विचारधारा से समझौता कर लिया है।


गया में जेपी नड्डा ने कहा कि आज बहुत ही खुशी का और महत्वपूर्ण दिन हैं। जिन लोगों की उम्र 50-60 साल होगी, उन लोगों ने बिहार में लोक नायक जय प्रकाश नारायण का आंदोलन देखा होगा। उन्होंने पहली बार आजाद भारत में कांग्रेस के स्वर से अलग हटकर के एक नए स्वर सुना होगा। राजनीतिक विचारधारा की आवाज सुना होगा। वो लोक नायक जय प्रकाश नारायण की आवाज थी।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने जय प्रकाश नारायण के जन्मदिन का जिक्र करते हुए कहा मुझे 11 अक्टूबर का दिन मुझे अच्छी तरह से याद है। नड्डा ने कहा कि मैं उनके आवास पर गया था। मुझे उनके साथ की तस्वीर दिखाई गई। युवा काल का दिन याद आ गया। नड्डा ने कहा कि बिहार ज्ञान, तप, महापुरुषों, प्रजातंत्र की रक्षा करने वाला और दुनिया को दिशा देने वाला प्रदेश है। वह बिहार, नई आवाज लोक नायक जय प्रकाश नारायण के नेतृत्व में लगाया।

इसके अलावा जेपी नड्डा ने कहा कि नरेन्द्र मोदी जी ने और नीतीश जी ने बिहार की राजनीतिक संस्कृति बदल दी है। पहले जाति के आधार पर कांग्रेस राजनीति करती थी। नरेन्द्र मोदी जी ने सरकार के काम के रिपोर्ट कार्ड के आधार पर जनता के बीच जाने की संस्कृति शुरू की है। आजादी के 70 साल तक बिहार में सिर्फ 4 मेडिकल कॉलेज दिए गए थे। 2014-20 तक राज्य को 14 मेडिकल कॉलेज मिले हैं और 11 पर काम चल रहा है।

Post a Comment

0 Comments