रामविलास पासवान के श्राद्धकर्म में भाग लेने चिराग ने PM मोदी समेत इन नेताओं को भेजा न्योता

पटना. लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संस्थापक और मोदी मंत्रिमंडल का हिस्सा रहे स्वर्गीय रामविलास पासवान  के श्राद्धकर्म की तैयारियां जोरों पर है. रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवानने अपने पिता के श्राद्धकर्म में भाग लेने के लिए देशभर के नेताओं को न्योता भेजने का काम शुरू कर दिया है. 20 अक्टूबर को पटना में देशभर से नेता और पासवान के चाहने वाले जुटेंगे. एलजेपी नेताओं का कहना है कि इस श्राद्धकर्म के कार्यक्रम में पीएम मोदी (PM Modi), गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah), रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और बिहार के सीएम नीतीश कुमार समेत मोदी मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों और सासदों को न्योता भेजने का काम शुरू हो गया है.

20 अक्टूबर को जुटेंगे देशभर के नेता
शुक्रवार को रामविलास पासवान के छोटे भाई और हाजीपुर के लोकसभा सांसद पशुपति कुमार पारस ने यह जानकारी दी. बता दें कि शुक्रवार को दलित सेना की ओर से पटना स्थित पार्टी कार्यालय में स्वर्गीय रामविलास पासवान की याद में एक शोकसभा आयोजित की गई थी. पत्रकारों से बात करते हुए पारस ने कहा है कि रामविलास पासवान को चाहने वाले सभी लोगों को उनके श्राद्धक्रम में आने का न्योता भेजा रहा है.

पारस ने कहा कि 19 अक्टूबर को हमारे गांव खगड़िया के शहरबिन्नी में ब्रह्मभोज का आयोजन किया जाएगा. इस कार्यक्रम में चिराग पासवान समेत पूरा परिवार पासवान परिवार 19 अक्टूबर को शहरबिन्नी पहुंचेगा. इसी दिन खगड़िया के फुलतौरा घाट पर रामविलास पासवान की अस्थियां विसर्जित की जाएंगी.

रविवार को ही पूरा पासवान परिवार ने बाल मुंडन कार्यक्रम संपन्न किया. रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान ने पटना के जनार्दन घाट पर अपने पिता स्वर्गीय रामविलास पासवान के श्राद्धकर्म के दौरान अपना मुंडन करवाया.

गौरतलब है कि मोदी कैबिनेट के कद्दावर मंत्री रामविलास पासवान का बीते गुरुवार को निधन हो गया था. वे 74 साल के थे. पासवान पिछले कई दिनों से बीमार चल रहे थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पासवान के निधन पर कहा था कि वो अपना दुख शब्दों में बयां नहीं कर सकते हैं. मैंने अपना एक सच्चा दोस्त खो दिया.

Post a Comment

0 Comments