भागलपुर में बोले PM Modi- विरोध-अवरोध को जरा भी मौका मिला तो बिहार की गति और प्रगति धीमी पड़ जाएगी


पीएम मोदी ने भागलपुर की सभा में कहा कि यदि बिहार में विरोध और अवरोध को बल मिला तो बिहार की गति और प्रगति दोनों धीमी पड़ जाएगी। उन्‍होंने कहा कि बिहार की जनता नीतीश कुमार को दोबारा सीएम की शपथ ले चुकी है। बिहार के लोग ठान चुके हैं कि एनडीए को फिर जिताना है। यह जरूरी है ताकि प्रगति के पथ पर बिहार की गति और तेज हो। एनडीए के विरोध में जो लोग खड़े हैं। देशहित में लिए गए हर फैसले का विरोधी कर रहे हैं। धारा 370, तीन तलाक, आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई, सुप्रीम कोर्ट द्वारा राममंदिर निर्माण का आदेश दिए जाने, ये लोग देशहित की हर बात के खिलाफ हैं। 

हमेशा विरोध में रहने वाले ये लोग बिहार को विकास नहीं पुराने रास्‍ते पर ले जाएंगे। ये लोग सिर्फ सत्‍तासुख के हैं। आपकी समस्‍याओं से इनका कोई लेना देना नहीं। जब-जब बिहार ने इन पर विश्‍वास किया, बिहार के साथ विश्‍वासघात किया गया है। बिहार को लूटकर इन्‍होंने सिर्फ अपने परिवार और रिश्‍तेदारों का भरा। इसके आगे कुछ नहीं किया। बिहार वो प्रांत है जहां लोकतंत्र के बीज बोये गए। क्‍या जंगलराज में कभी भी विकास और लोकतंत्र के बीज पनप सकते हैं। बिहार भ्रष्‍टाचार मुक्‍त प्रशासन, विकास का हकदार है इसे कौन सुनिश्‍चित करेगा। बिहार में रोजगार, निवेश कौन सुनिश्चित करेगा। जंगलराज बनाने वाले या सुशासन देने वाले। 

पीएम मोदी ने राजद की 15 साल की सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को जब भी मौका मिला, उन्होंने राज्य की जनता के साथ विश्वासघात किया। तेजस्वी यादव के 10 लाख सरकारी नौकरियों पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जिन लोगों ने सरकारी नौकरी को रिश्वत का जरिया बना लिया था, वे आज एक नया राग अलाप रहे हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि बिहार की जनता सब समझ रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया का पहला गणराज्य बिहार ही है। लेकिन पहले की सरकारों ने इसे नजरअंदाज करते हुए बिहार की सत्ता हासिल कर सिर्फ अपनी तिजोरियों को भरा। बिहार विकास का हकदार है और एनडीए की सरकार यह काम सुनिश्चित कर रही है। उन्होंने कहा कि बिहार में विकास की गति को और तेज करना है। केंद्र की योजनाओं को और तेजी से बिहार में लागू करने के लिए एनडीए की सरकार जरूरी है।

पीएम मोदी ने कहा कि जंगलराज से सभी लोग परेशान थे। गुंडों और अपराधियों का बोलबाला था। नीतीश कुमार के आने के बाद गुंडों और अपराधियों को जेल भेजा गया। आज एनडीए की सरकार बिहार को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में काम कर रही है। ड्रोन के जरिए जमीन की मैपिंग की काम चल रहा है। नए कृषि कानूनों का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बिहार में एपीएमसी एक्ट को पहले ही खत्म कर दिया गया था। अब यहां पर किसानों के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर पर काम चल रहा है।

Post a Comment

0 Comments