राहुल के मंच से बोले तेजस्वी- नीतीश जी से बिहार नहीं चलने वाला, हम ठेठ बिहारी और हमारा DNA भी ठीक


नवादा.
एक तरफ पीएम मोदी ने सासाराम से अपने बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार अभियान का आगाज किया तो कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी  ने नवादा के हिसुआ में महागठबंधन के प्रत्याशी के लिए वोट मांग अपने इलेक्शन कैंपेन की शुरुआत की. इस दौरान राहुल के मंच से नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की सरकार के कार्यकाल में बढ़े भ्रष्टाचार पर सवाल उठाए और रोजगार पर केंद्र व बिहार सरकार को घेरा. सभा को संबोधित करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि मैंने मां दुर्गा की पूजा की है. कलश स्थापना की है. सीएम बनते ही मैं पहला कलम चलाऊंगा और 10 लाख लोगों को नौकरी दूंगा. मैं झूठ नहीं बोलूंगा. हम ठेठ बिहारी हैं और हमारा डीएनए भी ठीक है.

तेजस्‍वी यादव ने कहा कि बिहार में घूसखोरी बढ़ी है. बिना घूस के कोई काम नहीं होता है. 15 साल में बिहार में क्या हुआ ये सब को पता है. जिनके पास रोजगार था, उनसे भी मोदी-नीतीश ने छीन लिया. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश से बिहार संभलने वाला नहीं है. जिन्‍होंने 15 साल काम नहीं किया उन्‍हें 5 साल क्या देंगे. साथ ही तेजस्‍वी यादव ने ऐलान किया कि नौकरी के लिए फॉर्म भरने के पैसे नहीं लिए जाएंगे और वृद्धा पेंशन को 1500 रुपये कर दी जाएगी.

तेजस्वी ने कहा कि 9 नवंबर को लालू यादव की रिहाई है और 10 नवंबर को नीतीश की विदाई है. उन्‍होंने आगे कहा कि पीएम मोदी ने स्पेशल पैकेज और स्पेशल स्टेटस के बारे में कुछ बात नहीं कही. कितने लोगों को नौकरी मिलेगी, यह भी जनता को नहीं बताया. नीतीश कुमार कोरोना के दौरान 144 दिन घर से नहीं निकले. पहले भी कोरोना था और आज भी है, पर आज वोट चाहिए तो घर से निकले हैं.

तेजस्वी ने हमला करते हुए कहा कि नीतीश कुमार कहते हैं नौकरी के बदले पैसा कहां से आएगा. बिहार का बजट 2 लाख 13 हज़ार करोड़ का है.  15 साल में नीतीश कुमार ने न युवाओं रोजगार दिया और न किसानों को राहत दे पाए. नीतीश जी आप थक चुके हैं...आपसे बिहार नहीं चल रहा है. लालू यादव ने बिना समुंदर के ही रेल के कई कारखाने दिए. जनता से मुखातिब तेजसवी ने पूछा जो 15 साल में रोजगार न दे पाए, कारखाने न खोल पाए, शिक्षा और स्वास्थ्य चौपट किया क्या उन्‍हें आप 5 साल और देंगे?

Post a Comment

0 Comments