बस कंडक्टर के काले कारनामे, नौकरी का झांसा देकर बनाता था लड़कियों के अश्लील वीडियो

डेस्क: महाराष्ट्र के पालघर में पुलिस ने एक ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो महिला को सरकारी नौकरी का झांसा देकर संबंध बनाता था और फिर वीडियो बनाकर पोर्न साइट को बेच देता था. द टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार आरोपी ठाणे म्युनिसिपल ट्रांसपोर्ट (टीएमटी) में एक बस कंडक्टर है. उस पर आईपीसी और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के प्रावधानों के तहत बलात्कार के आरोपों में मामला दर्ज किया गया है.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी ने कथित तौर पर महिलाओं को सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर लुभाया और फिर उनके साथ बलात्कार किया. उसके बाद उनके अश्लील वीडियो को पोर्न साइट पर अपलोड कर दिया.

रिपोर्ट के मुताबिक आरोपी का नाम मिलिंद जेड है जो महिलाओं को सरकारी नौकरी दिलाने का वादा करता था. उसके बाद उनसे संबंध बनाने का वीडियो गुप्त कैमरे से रिकॉर्ड कर लेता था. अब तक 18 और 30 साल की दो महिलाओं ने 32 वर्षीय कंडक्टर के खिलाफ शिकायतें दर्ज कराई हैं. जेड के पास पुलिस को एमए और बीएड की डिग्री भी मिली है. वो बेहद पढ़ा लिखा है.


30 वर्षीय पीड़ित महिला को इसकी जानकारी तब हुई जब उसके एक रिश्तेदार ने उसे सेक्स वीडियो के बारे में बताया. इसके बाद वो सतर्क हो गई और सीधे पुलिस के पास पहुंच गई. रिपोर्ट के मुताबिक, सेक्स वीडियो के बारे में जानकर वह हैरान रह गई और शिकायत दर्ज करवाई

आरोपी एफआईआर दर्ज होने के बाद जुलाई महीने से ही फरार था. पुलिस ने बताया कि आरोपी ने वीडियो बेचकर नवंबर और जून 2019 के बीच 5 लाख रुपये कमाए. आरोपी जेड से पुलिस ने 62 क्लिप बरामद किए. रिपोर्ट में कहा गया है कि सभी क्लिप एक पोर्नोग्राफी साइट पर अपलोड किए गए थे.

पुलिस ने कहा कि वे अन्य पीड़ितों का पता लगाने की कोशिश कर रहे है. उन्होंने कहा कि जेडे सुनिश्चित करता था कि वीडियो रिकॉर्ड करते वक्त उसका चेहरा कैमरे में कैद न हो, जबकि महिलाओं का चेहरा प्रमुखता से दिखाया जाता था.

Post a Comment

0 Comments