बिहार चुनाव: मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी को बीजेपी ने अपने कोटे से दीं 11 सीटें


मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) एनडीए में शामिल हो गई है। बिहार विधानसभा चुनाव में मुकेश सहनी की पार्टी 11 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बुधवार को बीजेपी ने वीआईपी के साथ गठबंधन का ऐलान करते हुए अपने कोटे की 121 सीटों में से 11 सीटें देने की घोषणा की है। बीजेपी ने भविष्य में मुकेश सहनी को एक MLC सीट देने की भी बात कही है। बता दें कि विकासशील इंसान पार्टी महागठबंधन का हिस्सा थी। जिस दिन महागठबंधन में सीट बंटवारे का ऐलान हुआ, उस दिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीआईपी के अध्यक्ष मुकेश सहनी ने राजद पर पीठ में खंजर घोंपने का आरोप लगाकार महागठबंधन से नाता तोड़ लिया था।

एनडीएम शामिल होने के बाद सहनी ने कहा कि जिस गठबंधन से हमने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी, एक बार फिर से हम उसी घर में आ गए हैं। यह मेरे लिए काफी खुशी की बात है। सहनी ने कहा कि आज से हम पूरी मजबूती से बिहार एनडीए के साथ हैं। हमें नीतीश कुमार को एक बार फिर से मुख्यमंत्री बनाने का काम करना है। बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनाव में वीआईपी बीजेपी के साथ थी।

बुधवार को पटना में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीआईपी के एनडीए में शामिल होने की जानकारी दी गई। इस दौरान बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडणवीस और सुशील मोदी मौजूद थे।

वीआईपी इन सीटों पर लड़ेगी चुनाव

1 ब्रह्मपुर
2 बोचहा
3 गौरा बोराम
4 सिमरी बख्तियारपुर
5 सुगौली
6 मधुबनी
7 केवटी
8 साहेबगंज
9 बलरामपुर
10 अली नगर
11 बनियापुर

एनडीए में सबसे अधिक टिकट अति पिछड़ा समाज के लोगों को दिया जा रहा

इस दौरान बीजेपी के कद्दावर नेता सुशील मोदी ने कहा कि इस बार के चुनाव में एनडीए से सबसे अधिक अति पिछड़ा समाज के लोगों को टिकट दिया जा रहा है। मोदी ने कहा कि बिहार में आज 16100 मुखिया अति पिछड़ा समाज के हैं, यह एनडीए सरकार की ही देन है। एनडीए सरकार ने ही पंचायतों में आरक्षण की व्यवस्था लागू की। सुशील मोदी ने कहा कि लालू सरकार ने तो 23 साल तक पंचायतों का चुनाव ही नहीं कराया था।

एनडीए के दल ही इस्तेमाल कर सकते हैं पीएम की तस्वीर

इस मौके पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जायसवाल ने कहा प्रधानमंत्री मोदी हमारे स्टार प्रचारक हैं। वे पहले भाजपा के नेता हैं, तब देश के प्रधानमंत्री हैं और ऐसे में एनडीए के घटक दलों के अलावा कोई भी पीएम की तस्वीर का उपयोग करता है तो उनके खिलाफ भाजपा अपराधिक मुकदमा भी दर्ज करा सकती है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने यह भी दोहराया कि जो नीतीश का नेतृत्व नहीं स्वीकार करता है, या किसी और दल से चुनाव लड़ता है तो उसे माफी नहीं दी जाएगी। उसका पार्टी से निष्कासन तय है।

Post a Comment

0 Comments