सहायिकाओं का चौथे दिन अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन जारी

धरनार्थियों ने नारेबाजी कर सरकार के प्रति जताया आक्रोश

● मांगों की पूर्ति नहीं होने पर आंदोलन जारी

जगदीशपुर। 17 सूत्री मांगों को लेकर जगदीशपुर, परियोजना की सेविका-सहायिकाओं ने अनुमंडल मुख्यालय अवस्थित बाल विकास परियोजना की समक्ष चौथे दिन भी अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन जारी रखा। इस दौरान अपनी मांगों के समर्थन में सेविका-सहायिकाओं ने जोरदार नारे लगाकर सरकार के प्रति आक्रोश जताया।
 
                               
धरनार्थियों को संबोधित करते हुए एटक जिला प्रभारी प्रमोद कुमार सिंह ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार अर्द्ध बेरोजगारी, आउटसोर्सिंग, संविदा, ठेका प्रथा पर बहाल कर निजीकरण के रास्ते को आगे बढ़ाना चाहती है, जो देश के मेहनत कथों के खिलाफ है। आंगनवाड़ी सेविका-सहायिकाओं को अल्प मानदेय पर काम करना पड़ रहा है। जिला महासचिव पूनम देवी ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार आंगनबाड़ी सेविकाओं के साथ धोखा दे रही है। राज्य की सरकार महिलाओं के बारे में बढ़-चढ़कर भाषण देने के काम करती है, लेकिन अगनवाड़ी सेविका-सहायिकाओं का मानसिक रूप से सरकार द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है। सीमा शर्मा, सुगंधा देवी, प्रमिला देवी, मीरा देवी, अनीता देवी, इंद्रावती देवी, आशा देवी, रेनू देवी सुनीता देवी, सुमन देवी, जानकी देवी  अन्य ने भी संबोधित करते हुए मांगों की पूर्ति नहीं होने पर आंदोलन जारी रखने की बात कही। मौके पर अनीता देवी, नीलम कुमारी, बेबी देवी, फुलवासो देवी, पूजा कुमारी धनवर्ता कुमारी, मीना देवी, नीता देवी, मंजू देवी बिंदा देवी सहित अन्य मौजूद रही।

Post a Comment

0 Comments