लोकसभा चुनाव की गलती से सीख लें और जल्द सीटों का फार्मूला तय करें महागठबंधन नेता: मुकेश साहनी

पटना: बिहार महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर माथापच्ची जारी है. घटक दलों के लगातार कहने के बावजूद तेजस्वी यादव सीट बंटवारे को लेकर कोई स्पष्ट बात नहीं कर रहे. ऐसे में धीरे-धीरे घटक दल के नेताओं के सब्र का बांध टूटता दिख रहा है. इसी क्रम में शनिवार को वीआईपी सुप्रीमो मुकेश साहनी ने कहा कि चुनावी महीना चल रहा है और हम लोग कोशिश करेंगे कि बहुत जल्दी चीजें स्पष्ट हो जाए और जनता के बीच सारी बातों को रख दें.

उन्होंने बताया कि इसी को लेकर एक-एक कर सबसे मुलाकात हो रही है और कैसे बिहार को हम लोग विकल्प दें, इसपर हम लोग मंथन कर रहे हैं. बहुत जल्दी हम लोग सारी बातें स्पष्ट कर देंगे. वहीं, इस बार इस पर विचार किया जा रहा है कि पिछले बार लोकसभा चुनाव के समय जो गलती हुई, लास्ट समय तक हम लोग सीट बंटवारे में ही समय बिता दिए. इस बार हम लोग चाहेंगे की वो गलती ना हो और आचार संहिता लगने से पहले सब कुछ स्पष्ट हो जाए और मुझे लगता है कि हम इसमें कामयाब होंगे.

बता दें कि महागठबंधन में सीट की माथापच्ची की वजह से ही पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने महागठबंधन से किनारा कर लिया है. वहीं जो पार्टी महागठबंधन में हैं, वो लगातार सीट शेयरिंग को लेकर तनाव में हैं, हालांकि सभी नेताओं के बीच बातचीत जारी है. बहरहाल, इसी साल अक्टूबर-नवंबर में चुनाव होने वाला है. ऐसा में समय आने पर सीटों का समीकरण सामने आ जाएगा.

Post a Comment

0 Comments