खगड़िया में नाबालिग पर टूटा दबंगों का कहर, पंचायत कर दी ऐसी सजा कि कांप जाएगी रूह


KAHGDIYA: खगड़िया में एक नाबलिग लड़के को दबंगों की पंचायत ने ऐसी सजा दी, जिसे जान कर आप कांप जाएंगे। यह सजा उसे गांव के मुखिया की मौजूदगी में दी गई। छेड़छाड़ के आरोप में पहले तो उसे एक पेड़ से बांध कर पीटा गया। हफा, बाल मुंडवा कर कालिख-चूना पोता गया, फिर पीटते हुए पूरे गांव में घुमाया गया। घटना के बाद से उत्‍पीड़न कर शिकार नाबालिग सदमे में हैं। उसकर परिवार डरा हुआ है। परिवार वालों का सवाल है कि आरोप की जांच कर कानून के अनुसार कार्रवाई के बदले खाप पंचायत जैसी ऐसी तालिबानी सजा क्‍यों दी गई?

दबंगों की पंचायत ने दी सजा

मिली जानकारी के अनुसार खगड़िया के बेलदौर थाना क्षेत्र के महिनाथ नगर गांव में एक किशोर पर छेड़छाड़ का आरोप लगा। इसके बाद गांव के दबंगों की पंचायत बैठी। इसमें मुखिया शिव शंकर यादव भी मौजूद रहे। फिर, पंचायत के फरमान के अनुसार उसकी बेरहमी से पिटाई की गई। फिर, बाल मुंडवा कर सिर पर कालिख-चूना पोता गया और उसे उसी हालत में गांव में घुमा गया।

घटना के दौरान किशाेर छोड़ देने की गुहार लगाता रहा, लेकिन किसी ने नहीं सुनी। तमाशा देख रही भीड़ में से भी किसी ने विरोध में आवाज नहीं उठाई। बाद में सूचना मिलने पर बेलदौर के थाना अध्यक्ष शिव कुमार यादव मौके पर पहुंचे, जब उसकी जान बची। वे पीड़ित किशोर को थाना ले गए। पीड़ित किशोर इसी साल 10वीं की परीक्षा उत्‍तीर्ण किया है। वह फिलहाल सदमे में है। उसका परिवार दबंगों से बुरी तरह डरा हुआ है।

पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पीड़ित किशोर ने खुद को बेकसूर बताया है। उसके परिवार का कहना है कि केवल आरोप लगा कर ऐसी बर्बर सजा नहीं दी जानी चाहिए थी। देश का कानून भी तो कोई चीज है।

Post a Comment

0 Comments