सुशांत सुसाइड केस: पटना से जांच करने पहुंचे एसपी को मुंबई में जबरन किया क्वारंटीन, बिहार के डीजीपी हुए नाराज


डेस्क: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की कथित खुदकुशी के मामले में जांच करने मुंबई पहुंचे पटना के एसपी विनय तिवारी को 14 दिनों के लिए होम क्वारंटीन कर दिया गया है। एसपी तिवारी रविवार को ही मुंबई पहुंचे थे। यहां उन्होंने पहले से मौजूद अपनी टीम के साथ मीटिंग की थी। 

बताया जा रहा है कि देर रात एसपी विनय तिवारी अपनी टीम के साथ सुशांत सिंह राजपूत के जुड़े किसी संदिग्ध से पूछताछ कर रहे थे। इस दौरान वहां बीएमसी की टीम ने पहुंचकर एसपी को क्वारंटीन का हवाला दिया और फिर उनके हाथ पर मुहर लगा दी। 


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीएमसी की टीम ने एसपी विनय तिवारी को मुंबई के गोरेगांव ईस्ट स्थित एसआरपीएफ ग्रुप-8 के ऑफिसर्स रेस्ट हाउस में जबरन क्वारंटीन कर दिया है। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने भी एसपी के हाथ में लगी मुंहर का फोटो ट्वीट किया है। 

गुप्तेश्वर पांडेय ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा है, 'ये हैं बिहार cadre के IPS अधिकारी  विनय तिवारी जिनको मुंबई में आज रात में 11 बजे रात में जबरदस्ती क्वारंटीन कर दिया गया। सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच करने वाली टीम का नेतृत्व करने गए थे। अब ये यहां से कहीं निकल नहीं सकते।'


एक और ट्वीट में गुप्तेश्वर पांडेय ने लिखा है, 'IPS अधिकारी विनय तिवारी आज वहां पुलिस टीम का नेतृत्व करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे, लेकिन उन्हें आज रात 11 बजे BMC अधिकारियों द्वारा जबरन क्वारंटीन कर दिया गया। उन्हें अनुरोध के बावजूद IPSMess में आवास उपलब्ध नहीं कराया गया।'

बता दें कि रविवार को मुंबई पहुंचे एसपी विनय तिवारी ने एयरपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में कहा था सुशांत केस की जांच सही दिशा में आगे बढ़ रही है। जिन लोगों से बयान लिये गये हैं उनका विश्लेषण किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments