श्याम रजक 10 साल बाद राजद में लौटे; कहा- नीतीश के साथ रहकर समय बर्बाद किया; राजद के 3 विधायक जदयू में शामिल

PATNA: जदयू के पूर्व उद्योग मंत्री श्याम रजक सोमवार को राजद में शामिल हो गए। तेजस्वी यादव ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई। इस मौके पर रजक ने कहा, नीतीश कुमार सिर्फ अफसरों की सुनते हैं। पार्टी के कई मंत्री, विधायक और जन प्रतिनिधि खुद को प्रताड़ित महसूस कर रहे हैं। आगे-आगे देखिए होता है क्या। उन्होंने कहा कि मैंने 2 अप्रैल को दलित उत्पीड़न के खिलाफ विधानसभा में वेल में आकर प्रदर्शन किया था। तभी से मैं उन लोगों को खटकने लगा था। वे सोच रहे थे कि दलितों की बात करने वाला कैसे आगे बढ़ रहा है।

इससे पहले रजक ने कहा, 'मैंने नीतीश कुमार के साथ रहकर 10 साल बर्बाद कर दिए। अब सामाजिक न्याय की लड़ाई लडूंगा।' जदयू ने रजक को रविवार को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में बर्खास्त कर दिया था।

राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि श्यामजी अपने पुराने और असली घर में आए इसकी हम सब लोगों को खुशी है। उन्होंने कहा कि जदयू हो या डबल इंजन की सरकार, जिस प्रकार से सरकार चल रही है उसमें जन प्रतिनिधियों का कोई महत्व नहीं रह गया है। कोई इज्जत नहीं रह गया है। अफसरशाही लागू हो गई है। कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन में दूसरे राज्यों से आए मजदूरों को बेइज्जत किया गया। कोरोना में पूरा सिस्टम कोलैप्स कर गया। बिहार बाढ़ से डूब रहा है और नीतीश को अपनी कुर्सी की पड़ी है। वह राजनीति करने में जुटे हैं।

जदयू में शामिल हुए राजद से निकाले गए 3 विधायक
राजद के तीन विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव और अशोक कुमार जदयू में शामिल हो गए। इन्हें रविवार को पार्टी से निकाला गया था। राजद का कहना था कि तीनों विधायक कई महीने से पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल थे।

मांझी का एनडीए में जाना तय, 20 अगस्त को ऐलान
पूर्व सीएम जीतनराम मांझी का फिर से जदयू खेमे की ओर से एनडीए में आना तय माना जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक, वे एनडीए में अपनी पार्टी का अस्तित्व कायम रखना चाहते हैं, पर जदयू नेतृत्व हम (से) का जदयू में विलय चाहता है। नए समीकरण में अब मांझी अपनी पार्टी के साथ एनडीए में एडजस्ट होंगे, ऐसी संभावना है। हम प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि 20 अगस्त को फैसला होगा।

Post a Comment

0 Comments